राजस्थान राज्य मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष का उदयपुर दौरा

राजस्थान राज्य मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष का उदयपुर दौरा

उदयपुर, 12 अक्टूबर। राजस्थान राज्य मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष जस्टिस गोपालकृष्ण व्यास ने अपने उदयपुर प्रवास के दौरान मंगलवार को विभिन्न संस्थाओं एवं कार्यालय का दौरा किया।
जस्टिस व्यास ने महाराणा भूपाल चिकित्सालय का दौरा कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान चिकित्सा के साफ-सफाई, मरीजों को दी जाए उपचार सुविधाएं, चिकित्सकीय सुविधाएं कोरोना वैक्सीनेशन कैम्प आदि के बारे में जानकारी प्राप्त की। उन्होंने वहां संचालित व्यस्क टीकाकरण केन्द्र की व्यवस्थाओं का भी जायजा लिया और सराहना की। आरएनटी प्राचार्य डॉ. लाखन पोसवाल ने कोरोना के साथ विभिन्न बीमारियों से बचाव के लिए चिकित्सकों की टीम द्वारा जारी प्रयासों एवं कोरोना वैक्सीनेशन शिविरों के बारे में जानकारी दी।
जस्टिस व्यास ने केन्द्रीय सुधार गृह का निरीक्षण किया। इस दौरान कारागार की व्यवस्था, सुरक्षा, बंदियों के लिए भोजन व्यवस्था एवं अन्य सुविधाओं की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने बंदियों को मानवाधिकार के बारे में बताया। जस्टिस व्यास ने पुलिस लाइन उदयपुर का भी निरीक्षण किया एवं पुलिस लाइन सभागार की व्यवस्थाओं के साथ स्वच्छता एवं कार्यों के बारे में चर्चा की। उन्होंने उपस्थित अधिकारियों व पुलिसकर्मियों को मानव अधिकार आयोग की कार्यप्रणाली के बारे में बताया एवं कोरोना काल में जवानों द्वारा दी गई सेवाओं की सराहना की तथा भविष्य में भी सचेत रहते हुए अपने कर्तव्यों का निर्वहन करने एवं कोरोना की वैक्सीन लगवाने के लिए आमजन को जागरूक करने की बात कही। इस दौरान जस्टिस व्यास के साथ रजिस्ट्रार आयोग ओ.पी.पुरोहित एवं सामाजिक न्याय अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक मान्धाता सिंह भी साथ थे।
  • Powered by / Sponsored by :