महँगाई, बेरोजगारी को लेकर कांग्रेस पार्टी ने किया केन्द्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन, पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस नेताओं को लिया हिरासत में

महँगाई, बेरोजगारी को लेकर कांग्रेस पार्टी ने किया केन्द्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन, पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस नेताओं को लिया हिरासत में

बढ़ती महँगाई, बेरोजगारी और आवश्यक वस्तुओं पर जीएसटी वृद्धि के खिलाफ कांग्रेस नेताओं व कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस पार्टी मुख्यालय के बाहर दिल्ली में बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन किया। इस बीच दिल्ली पुलिस ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी को हिरासत में लिया गया। राहुल तमाम कांग्रेस नेताओं के साथ महंगाई के खिलाफ राष्ट्रपति भवन की तरफ मार्च कर रहे थे, तभी उन्हें हिरासत में लिया गया।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी कांग्रेस पार्टी द्वारा निकाले गये प्रदर्शन में शामिल होने के लिए पहुंची थीं। इस दौरान जब पुलिस ने उन्हें आगे बढ़ने से रोका तो वह बैरिकेड्स लांघकर आगे बढ़ गईं। उसके बाद सड़क पर ही धरने पर बैठ गईं। और दिल्ली पुलिस ने उन्हें भी हिरासत में लिया गया है। राहुल गाँधी व प्रियंका गाँधी के अलावा शशि थरूर को भी हिरासत में लिया गया है।

कांग्रेस नेता राहुल गाँधी ने कहा कि कांग्रेस के सभी सांसद महंगाई के मुद्दे को लेकर राष्ट्रपति भवन की ओर मार्च कर रहे थे लेकिन हमें यहां से आगे नहीं जाने दे रहे। हमारा काम लोगों के मुद्दों को उठाना है। पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस सांसदों को घसीटा और मारा भी है। और कुछ सांसदों को हिरासत में लिया गया। आप सभी देख रहे हैं कि लोकतंत्र की हत्या हो रही है। ये लोग महंगाई पर प्रदर्शन नहीं करने दे रहे हैं।

राजस्थान में भी कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा के नेतृत्व में प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा महँगाई, बेरोजगारी और आवश्यक वस्तुओं पर जीएसटी वृद्धि के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन एवं राजभवन घेराव किया गया| उन्होंने कहा कि आर्थिक अनीति से बर्बादी एवं कुशासन से देश में रिकॉर्ड महंगाई और बेरोजगारी चरम पर है। देश की बिगड़ती दशा देखकर तानाशाह डरा हुआ है, जनता की आवाज़ उठाने वालों को कुचलकर लोकतंत्र ख़त्म करने में लगा है। देश बचाने के लिए हमें आगे आकर अराजकता के खिलाफ लड़ना होगा।

कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने ट्वीट कर कहा कि आज एक बार फिर कांग्रेस सांसदों को महंगाई, बेरोजगारी और जीएसटी के खिलाफ प्रदर्शन करने के लोकतांत्रिक अधिकार से वंचित कर दिया गया. विजय चौक पर हमें पुलिस वैन में भर दिया गया. एक चीज साफ है, जो डरते हैं, वही डराने का प्रयास करते हैं!

प्रशासन ने कांग्रेस के मार्च से पहले दिल्ली के कुछ इलाकों में बड़ी सभाओं व जुलुस पर प्रतिबंध लगाने के लिए निषेधाज्ञा लागू कर दी। प्रतिबंधों का हवाला देते हुए, दिल्ली पुलिस ने राष्ट्रीय राजधानी में विरोध प्रदर्शन करने के लिए कांग्रेस को अनुमति देने से इनकार कर दिया था।
  • Powered by / Sponsored by :