बिखरी हुई भाजपा के चिंतन शिविर से बढ़ेंगी चिन्तायें, महंगाई पर चिंतन करे भाजपा-खाचरियावास

बिखरी हुई भाजपा के चिंतन शिविर से बढ़ेंगी चिन्तायें, महंगाई पर चिंतन करे भाजपा-खाचरियावास

जयपुर, 20 सितम्बर 2021 परिवहन मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास ने कहा कि भाजपा के चिन्तन शिविर से भाजपा की चिन्तायें मिटने वाली नहीं हैं क्योंकि भाजपा का वर्तमान नेतृत्व जमीन पर विपक्ष की भूमिका निभाने की बजाय झूठ बोलकर, झूठी बुनियाद पर राजनीति करना चाहता है।
खाचरियावास ने कहा कि प्रदेश के भाजपा नेता बिखरी हुई भाजपा को एकजुट करके आगे बढ़ने की बजाय दूसरों के घरों में झांकते रहते हैं। भाजपा नेताओं ने ढ़ाई वर्ष में सिर्फ बयानबाजी करके एक-दूसरे को नीचा दिखाने में लगे रहे। पूरा प्रदेश जानता है कि जब भाजपा के नेतृत्व को केन्द्र सरकार से बात करके प्रदेश की जनता को पूरी ऑक्सीजन दिलानी चाहिये थी, उस वक्त ये नाकाम हो गये। कोरोना संकट के समय भाजपा का कोई भी नेता, सांसद और मंत्री सामने नहीं आये। जब राज्य के मुख्यमंत्री ने विपक्ष के नाते भाजपा से मदद मांगी तो भाजपा का प्रदेश नेतृत्व राजस्थान की मदद करने में असफल साबित हुआ। बिखरी हुई भाजपा को इकट्ठा करने के लिये कुम्भलगढ़ में दो दिन का चिन्तन शिविर भाजपा के लिये नुकसानदायक साबित होगा, क्योंकि विपक्ष के नेता गुलाबचंद कटारिया के भगवान श्रीराम और भारत गौरव महाराणा प्रताप के संदर्भ में दिये गये बयानों से मेवाड़ की जनता में भारी आक्रोष व्याप्त है। मेवाड़ की धरती के लोग यह उम्मीद कर रहे थे कि कटारिया जी बयान के विरूद्ध अन्य भाजपा नेता भगवान श्रीराम और भारत गौरव महाराणा प्रताप के संदर्भ में बयान देकर भाजपा की स्थिति स्पष्ट करेगें। उन्होंने इस संदर्भ में कोई बयान नहीं दिया।
खाचरियावास ने कहा कि कुम्भलगढ़ के दो दिन के चिन्तन शिविर से भाजपा की चिन्तायें और बढ़ेगी, भाजपा अभी-अभी जिला परिषद और पंचायत चुनाव में बुरी तरह हारी है । भाजपा को ढ़ाई प्रतिशत वोट कम मिले हैं। भाजपा को चिन्तन शिविर में पेट्रोल-डीजल और गैस सिलेण्डर की महंगाई कम करने के लिये चिन्ता करते हुये केन्द्र सरकार से मांग करनी चाहिये, इनकी दरें कम करें, नहीं तो जनता भाजपा को कभी माफ नहीं करेगी ।
  • Powered by / Sponsored by :