राष्ट्रीय महापौर सम्मेलन में पीएम मोदी ने कहा, आप अपने शहर में ऐसा काम करें कि आने वाली पीढ़ी आपको याद करें, क्वालिटी में कभी कंप्रोमाइज न होने दें . . .

राष्ट्रीय महापौर सम्मेलन में पीएम मोदी ने कहा, आप अपने शहर में ऐसा काम करें कि आने वाली पीढ़ी आपको याद करें, क्वालिटी में कभी कंप्रोमाइज न होने दें . . .

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज गुजरात के गांधीनगर में राष्ट्रीय महापौर सम्मेलन का ऑनलाइन उदघाटन किया को संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी ने बीजेपी के महापौर और उप महापौर को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित करते हुए महापौर को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि आप अपने शहर में ऐसा काम करें कि आने वाली पीढ़ी आपको याद करें। मेरा शहर आर्थिक रूप से समृद्ध हो। मेरा शहर किसी न किसी उत्पाद के लिए जाना जाए। मेरा शहर टूरिज्म के लिए आकर्षण का केंद्र बने। मेरा शहर उसकी पहचान बने। इस सोच के साथ काम करना चाहिए। उन्होंने कहा कि कार्यों को तेजी से पूरा करते हुए, क्वालिटी में कभी कंप्रोमाइज न होने दें।

पीएम मोदी ने कहा कि आजादी के अमृत काल में अगले 25 वर्ष के लिए भारत के शहरी विकास का एक रोड मैप बनाने में इस सम्मेलन की बड़ी भूमिका है। सामान्य नागरिक का संबंध अगर सरकार नाम की किसी व्यवस्था से आता है तो पंचायत से आता है, नगर पंचायत से आता है, नगरपालिका से आता है, महानगर पालिका से आता है। इसलिए इस प्रकार के विचार-विमर्श का महत्व बढ़ जाता है।

पीएम मोदी ने कहा कि हमारे देश के नागरिकों ने बहुत लंबे अरसे से शहरों के विकास को लेकर भाजपा पर विश्वास रखा है। उसे निरंतर बनाए रखना, उसे बढ़ाना हम सभी का दायित्व है। साथियों, सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास। ये जो वैचारिक परिपार्टी भाजपा ने अपनायी है, यही हमारा मॉडल दूसरों से अलग करता है।

पीएम मोदी ने कहा कि 2014 तक हमारे देश में मेट्रो नेटवर्क 250 किलोमीटर से भी कम था। आज देश में मेट्रो नेटवर्क 775 किलोमीटर से भी ज्यादा हो चुका है। इस साथ ही शहरों में रोजी-रोटी के लिए लोग अस्थायी रूप में आते हैं उनको उचित किराए पर घर मिले, इसके लिए बड़े स्तर पर काम चल रहा है। मेरा आप सभी से आग्रह है कि अपने-अपने शहरों में इस अभियान को गति दें। कार्यों को तेजी से पूरे कराएं और क्वालिटी में कभी कंप्रोमाइज न होने दें।

भाजपा के मेयर के रूप में, शहरों के मुखिया के रूप में रियल स्टेट सेक्टर को बेहतर और पारदर्शी बनाने का आपका दायित्व ज्यादा है। नियमों का पालन करना, उसे सुनिश्चित करना हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए।
चुने हुए जनप्रतिनिधियों की सोच, सिर्फ चुनाव को ध्यान में रखते हुए सीमित नहीं होनी चाहिए। चुनाव केंद्रित सोच से हम शहर का भला नहीं कर सकते हैं।

पीएम आगे बोले कि, टियर 2 और टियर 3 शहर अब आर्थिक गतिविधियों का केंद्र बन रहे हैं. हमें उन क्षेत्रों में उद्योग समूहों को विकसित करने पर ध्यान देना चाहिए. छोटे विक्रेताओं को डिजिटल पेवमेंट का इस्तेमाल करने के लिए ट्रेनिंग दी जानी चाहिए। इसे सुनिश्चित करने के लिए महापौरों को पहल करनी चाहिए।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने राष्ट्रीय महापौर सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि हम राजनीति में आए हैं तो सिर्फ गद्दी पर बैठने नहीं आए हैं, सत्ता में बैठने नहीं आए हैं। सत्ता हमारे लिए माध्यम है, लक्ष्य सेवा है। सुशासन के जरिए किस प्रकार हम जनता की सेवा कर सकते हैं, इसके लिए हम काम करते हैं। इसके अलावा भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने गुजरात के गांधीनगर में 'नमो किसान पंचायत' कार्यक्रम के अंतर्गत 'ई-बाइक' का शुभारंभ किया।

भाजपा के राष्ट्रीय सचिव ऋतुराज सिन्हा ने जानकारी देते हुए कहा कि कुल 18 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के महापौर, उप महापौर और अन्य निर्वाचित प्रतिनिधि इस सम्मेलन में भाग लेंगे और अपने विचार साझा करेंगे। साथ ही इस सम्मेलन में अपशिष्ट प्रबंधन, यातायात प्रबंधन और जल-जमाव आदि विषयों पर चिंतन किया जाएगा। सिन्हा ने कहा कि सूरत, इंदौर, कानपुर और पणजी के मेयर कचरा प्रबंधन, साफ-सफाई और राजस्व बढ़ाने के लिए अपने द्वारा किए गए कार्यों के बारे में वहां मौजूद लोगों को जानकारी देंगे।
  • Powered by / Sponsored by :