एड्स से बचाव के लिए युवा अपनायें सुरक्षित व जिम्मेदार जीवन शैली - शासन सचिव, युवा मामले व खेल विभाग

एड्स से बचाव के लिए युवा अपनायें सुरक्षित व जिम्मेदार जीवन शैली - शासन सचिव, युवा मामले व खेल विभाग

जयपुर, 13 सितम्बर। युवा मामले एवं खेल विभाग के शासन सचिव श्री विकास भाले ने कहा कि एड्स स्वास्थ्य मुद्दे से अधिक सामाजिक मुद्दों है और इस पर युवा वर्ग के साथ चर्चा करना आवश्यक है ताकि युवाओं को सुरक्षित व जिम्मेदार जीवन शैली विकसित करने मे मदद मिले।

श्री भाले सोमवार को यहां एसएमएस स्टेडियम में युवा मामले व खेल विभाग के राजस्थान युवा बोर्ड और राजस्थान स्टेट एड्स कंट्रोल सोसायटी, जयपुर के संयुक्त तत्वधान में आयोजित ‘आउट ऑफ स्कूल यूथ’ प्रोग्राम के तहत एक दिवसीय ’पीयर एज्यूकेटर प्रशिक्षण’ कार्यशाला में बोल रहे थे।

शासन सचिव ने बताया कि 15 से 29 साल के ऎसे युवा जो स्कूल व महाविद्यालय में अध्ययनरत नहीं या जो विद्यालय का अध्ययन समाप्त कर स्वयं का व्यवसाय या दूसरे काम कर रहे हैं, उनके लिए भारत सरकार द्वारा ’आउट ऑफ स्कूल यूथ’ कार्यक्रम चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि एचआईवी संक्रमण को रोकने के तरीकों के बारे में युवाओं को व्यापक और सही ज्ञान प्रदान करना जरूरी है ताकि एड्स जैसे मुद्दों पर समाज से कलंक और भेदभाव कम किया जा सके। श्री भाले ने कहा कि इस तरह के प्रशिक्षण से प्रत्येक युवा सही जानकारी अपने सह मित्र, भाई बन्धुओं को देकर संक्रमण के प्रसार को रोकने में अपनी मदद करेगा।

राजस्थान स्टेट एड्स कंट्रोल सोसाइटी के निदेशक (एड्स) श्री रवि प्रकाश शर्मा ने कहा कि युवाओं को एड्स के प्रति जागरूक कर प्रतिकूल प्रभाव की जानकारी देकर एड्स महामारी को समाप्त किया जा सकता है।

राजस्थान युवा बोर्ड के समन्वयक श्री कैलाश चन्द पहाडिया ने बताया कि कार्यशाला में जयपुर, अलवर, अजमेर जिलों के 15-29 आयु वर्ग में नेहरू युवा केन्द्र संगठन, एनएसएस, एन.सी.सी, रेड रिबन क्लब, राजस्थान राज्य भारत स्काउट व गाइड के स्वयंसेवकों के 100 युवाओं ने भाग लिया।

कार्यशाला में नेहरू युवा केन्द्र संगठन के राज्य निदेशक श्री पवन कुमार अमरावत, राजस्थान स्टेट एड्स कंट्रोल सोसाइटी के संयुक्त निदेशक (आई.ई.सी) डॉ. प्रदीप चौधरी, यूथ अफेयर्स की सहायक निदेशक श्रीमती गरिमा भाटी, नाको के क्षेत्रीय प्रबन्धक श्री नाहिद मोहम्मद, यूनिसेफ के श्री जामिर अनवर ने अपने विचार रखे। वक्ताओं ने कोरोना अनुकूल व्यवहार और टीकाकरण के लिए भी युवाओं को जागरूक किया।

कार्यशाला में युवा मामले एवं खेल विभाग की शासन उप सचिव श्रीमती कश्मी कौर, राजस्थान युवा बोर्ड के सदस्य सचिव श्री रामबाबू सैनी सहित अन्य अधिकारियों ने भाग लिया।
  • Powered by / Sponsored by :