1 करोड़ नकदी और गोलियां जब्त, झारखण्ड में जमीन हड़पने के मामले में ईडी की बड़ी कार्रवाई

1 करोड़ नकदी और गोलियां जब्त, झारखण्ड में जमीन हड़पने के मामले में ईडी की बड़ी कार्रवाई

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और अन्य के खिलाफ कथित तौर पर जमीन हड़पने से जुड़े मनी लांड्रिंग की जांच के सिलसिले में प्रवर्तन निदेशालय ने रांची में छापेमारी कर एक करोड़ रुपये नकद और 100 कारतूस जब्त किए है। अधिकारियों ने बताया कि कांके रोड स्थित एक परिसर में छापेमारी कर शुक्रवार 21 जून शाम को ये जब्ती की गईं। उन्होंने बताया कि परिसर के मालिक की पहचान कमलेश सिंह नाम के व्यक्ति के रूप में हुई है।
ईडी ने पुलिस में दर्ज कराया मामला
बताया जा रहा है छापेमारी की यह कार्रवाई पूर्व मुख्यमंत्री एवं झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेता हेमंत सोरेन के खिलाफ कथित तौर पर जमीन हड़पने के मामले में की जा रही है, लेकिन यह एक अलग भूखंड से जुड़ा मामला है। उन्होंने बताया कि एजेंसी ने कारसूत बरामद किए जाने के संबंध में शस्त्र अधिनियम के तहत पुलिस में मुकदमा भी दर्ज कराया है।
25 लोग पहले ही हो चुके हैं गिरफ्तार
मामले की जांच के तहत ईडी सोरेन, भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी एवं रांची के पूर्व उपायुक्त छवि रंजन, भानु प्रताप प्रसाद और अन्य सहित 25 से अधिक लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। एजेंसी, सोरेन द्वारा रांची के बार्गेन इलाके में कथित तौर पर अवैध तरीके से हासिल किए गए कई भूखंड सहित 266 करोड़ रुपये कीमत के भूखंड जब्त कर चुकी है और एजेंसी अब तक चार आरोपपत्र दाखिल कर चुकी है।
हेमंत को ईडी ने 31 जनवरी को गिरफ्तार किया था
भूमि हड़पने के आरोपों को खारिज करते हुए सोरेन का कहना है कि भारतीय जनता पार्टी नीत केंद्र सरकार ने राजनीतिक प्रतिशोध में उनके खिलाफ यह मामला दर्ज कराया है। झारखंड के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के कुछ ही मिनटों बाद ईडी ने 31 जनवरी को उन्हें रांची स्थित राजभवन से गिरफ्तार कर लिया था।
  • Powered by / Sponsored by :