पुलिस थाना रामनगरिया जयपुर पूर्व की बडी कार्यवाही, रात्रि में हुई लूट की 03 वारदातों का फर्दाफाश

पुलिस थाना रामनगरिया जयपुर पूर्व की बडी कार्यवाही, रात्रि में हुई लूट की 03 वारदातों का फर्दाफाश

जयपुर, 9 सितम्बर । पुलिस उपायुक्त जयपुर पूर्व श्री प्रहलाद सिंह कृष्णियॉ ने बताया कि पिछले दिनों दिनांक 24.08.2021, 25.08.2021 व 27.08.2021 की रात्रि को कुछ अज्ञात बदमाशों द्वारा रामनगरिया व प्रतापनगर जयपुर पूर्व के क्षेत्र में अपहरण कर लूट करने की लगातार हुई 03 वारदातों का फर्दाफाश करने हेतु व मुल्जिमानों की गिरफ्तारी हेतु श्री राजश्रर्षि वर्मा IPS अति0 पुलिस उपायुक्त, जयपुर, पूर्व के मार्गदर्शन में, श्री नेमीचन्द खारिया, सहायक पुलिस आयुक्त सांगानेर, जयपुर पूर्व के सुपरविजन में, श्री पुरुषोत्तम महेरिया पु0नि0 के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया। उक्त टीम के द्वारा उक्त वारदातों का फर्दाफाश करते हुये वारदातों को अंजाम देने वाले 02 शातिर बदमाशों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की ।
घटनाओं का विवरणः-
01. दिनांक 25.08.2021 को परिवादी श्री मिलन सिंह ने उपस्थित थाना होकर एक रिपोर्ट इस आशय की पेश की कि ‘‘ मैं दिनांक 24.08.2021 की रात्रि को समय करीब 12.30 ए0एम0 पर घर जा रहा था तो घर के पास मोटरसाईकिल सवार कुछ अज्ञात लोगों ने मदद के बहाने मेरी गाडी रुकवाई व मुझे गाडी से उतार कर मेरी कार की चाबी निकाल ली तथा उसी समय पीछे से एक कार आई तथा 03-04 लोगो ने मेरा मुंह बन्द कर अपनी गाडी में बिठा लिया तथा मुझे डरा धमका कर कोटा हाईवे की तरफ ले गये । उन लोगो ने रात्रि को मुझे छोडने की एवज में 01 लाख रुपयों की मांग की । मेरे पास रुपये नहीं होने पर मैनें 21,000 रुपये मेरे दोस्त से यूपीआई पेमेन्ट करवाया । इन लोगो ने मेरी घडी भी रख ली। उसके बाद ये लोग मुझे वापिस अक्षयपात्र चौराहे के पास छोडकर भाग गये । आदि रिपोर्ट पर मुकदमा नम्बर 296/2021 धारा 342, 365, 386 आईपीसी में कायम किया गया ।
02. दिनांक 26.08.2021 की रात्रि को परिवादी श्री मोहित सतनामी ने उपस्थित थाना प्रतापनगर जयपुर पूर्व होकर एक रिपोर्ट इस आशय की पेश की कि ‘‘ मैं आज रात्रि में घोडा सर्किल के पास फाईबर केबल चैक कर रहा था । पास ही मे मेरी गाडी खडी थी । रात्रि में करीब 12.15 ए0एम0 पर 01 स्वीफ्ट डिजायर गाडी वहां आयी जिसमें 04 आदमी सवार थे । उन्होने जबरन मुझे अपनी गाडी में बिठा लिया तथा मेरी गाडी को साथ लेकर मुझे शिवदासपुरा क्षेत्र में एक गांव में ले गये तथा मुझे डरा धमका कर मेरे खाते से 72000 रुपये का यूपीआई पेमेन्ट करा लिया । उसके बाद मुझे वो लोग वापिस प्रतापनगर छोड गये । मैनें मेरी गाडी यहां आकर चैक की तो गाडी में फाईबर चैक करने की मशीन व 80,000 रुपये गायब थे । आदि पर मुकदमा नम्बर 489/2021 धारा 365, 384, 34 आईपीसी में पुलिस थाना प्रतापनगर जयपुर पूर्व पर कायम किया गया ।
03. दिनांक 28.08.2021 को परिवादी श्री राहुल शर्मा ने उपस्थित थाना होकर दर्ज करवाया कि मैं दिनांक 27.07.2021 की रात्रि को समय करीब 12.30 ए0एम0 पर मेरी गाडी से पनोरमा चौराहे की तरफ आ रहा था। रास्ते में टॉयलेट करके मैं वापिस गाडी में बैठने लगा तो पीछे से एक स्वीफ्ट डिजायर गाडी आई जिसमें 5-6 आदमी निकलकर आये तथा मुझे जबरन अपनी गाडी में बिठा लिया तथा मेरे साथ मारपीट कर मेरी आंखो पर पट्टी बांध दी । ये लोग मुझे मारपीट करते हुये अज्ञात जगह ले गये तथा मेरे गाडी में रखे 2.50 लाख रुपये व 01 सोने की चेन, 02 सोने की अंगुठी, 01 एप्पल का व 01 वीवो कम्पनी का फोन तथा मेरे पर्स में रखे एटीएम कार्ड व अन्य दस्तावेजात छीन लिये । इन लोगों ने मुझे मुझे गाडी देकर टांक से पहले छोड दिया । आदि रिपोर्ट पर मुकदमा नम्बर 306/2021 धारा 342, 365, 394 आईपीसी में कायम किया जाकर अनुसंधान प्रारम्भ किया गया ।
गिरफ्तारशुदा मुल्जिमानों का विवरण : -
01. विकास मीना पुत्र श्री हरिभजन मीना जाति मीना उम्र 21 साल निवासी- ग्राम- करेल, पुलिस थाना मलारना डूंगर, जिला सवाईमाधोपुर ।
02. अखिलेष चारण पुत्र श्री मोती सिंह जाति चारण उम्र 21 साल निवासी- ग्राम- झोंपड्या राजावतान, पुलिस थाना रामगढ पचवारा, तहसील लालसोट जिला दौसा।
विशेष विवरण : -
मुल्जिमान विकास करेल व अखिल ने अपने साथियों नेमीचन्द मीना, नमोनारायण मीना, सियाराम गुर्जर, विश्वास मीना, राजेन्द्र मीना, बाबूलाल, दिनेश सैनी के साथ मिलकर एक गिरोह बनाया, जिनके द्वारा रात्रि में रैकी कर कार सवार व्यक्तियों जो देखने में पैसे वाले लगते थे, को 02 व्यक्तियों द्वारा बाईक पर सवार होकर मदद के बहाने या बाईक का एक्सीडेंट करके आने के बहाने रुकवा लिया जाता तथा पीछे से गिरोह के अन्य सदस्यों के द्वारा एक स्वीफ्ट डिजायर कार जो कि सेल्फ ड्राईव कार से रेन्ट पर ली हुई थी से अचानक पीछे से आकर उक्त व्यक्ति को दबोच कर उसकी आंखो पर पट्टी बांध कर अपने साथ अपहरण कर ले जाते थे । उक्त मुल्जिमान उक्त व्यक्ति की गाडी भी ले जाते थे । रास्ते में अपहरणकर्ता को मारपीट कर उसकी नगदी व महंगे सोने चांदी के आभूषण व घडी आदि निकाल लेते थे । रुपये नहीं होने पर उक्त व्यक्ति को धमका कर उसके जानकार से यूपीआई पेमेन्ट एक गेमिंग ऐप में डलवाते थे ताकि उनके बारे में किसी से कोई जानकारी प्राप्त ना हो । उसके बाद अपहरणकर्ता को गिरोह के सदस्य उसकी कार देकर छोड देते थे । गिरफ्तारशुदा मुल्जिमानों ने अब तक की पूछताछ में अपने गिरोह के अन्य सदस्यों के साथ उक्त वारदातों को अंजाम देना व नगदी, सोने की चैन, अंगुठी, घडी, एप्पल फोन व अन्य मोबाईल छीनना व यूपीआई पेमेन्ट के जरिये गेमिंग एप में रुपये प्राप्त करना स्वीकार किया है। मुल्जिमानों से मुस्तगीस श्री राहुल शर्मा से की गई लूट की राशि 2.50 लाख में से 95,000 रुपये बरामद किये जा चुके हैं । मुल्जिमान के अन्य साथी गिरफ्तारी के भय से अपने संभावित ठिकानों से फरार है, जिनकी तलाश सरगर्मी से की जा रही है । उक्त मुल्जिमानों द्वारा लगातार रामनगरिया व प्रतापनगर के क्षेत्र में 03 वारदातें की, जिससे आमजन में रात्रि में निकलने में भय का माहौल उत्पन्न हो गया।
गठित टीमः -
01. श्री राजेन्द्र प्रसाद उप निरीक्षक पुलिस थाना रामनगरिया जयपुर पूर्व।
02. श्री गंगासहाय सहायक उप निरीक्षक पुलिस थाना रामनगरिया जयपुर पूर्व।
03. श्री पप्पूराम हैड कानि0 676 पुलिस थाना रामनगरिया जयपुर पूर्व।
04. श्री परमानन्द कानि0 7622 पुलिस थाना रामनगरिया जयपुर पूर्व।
05. श्री राजेश चौधरी कानि0 7730 पुलिस थाना रामनगरिया जयपुर पूर्व।
06. श्री हरिओम कानि0 3907 पुलिस थाना रामनगरिया जयपुर पूर्व।
07. श्री राकेश कानि0 7765 साईबेर सैल जयपुर आयुक्तालय।
विशेष भूमिकाः-
उक्त मुल्जिम को गिरफ्तार करवाने में पुलिस थाना रामनगरिया जयपुर पूर्व के श्री राजेन्द्र प्रसाद उप निरीक्षक मय टीम कानि0 गण सर्व श्री राजेश चौधरी 7730, परमानन्द नं0 7622, हरिओम नं0 3907 व आयुक्तालय जयपुर साईबेर सैल के कानि0 राकेश नं0 7765 की विशेष भूमिका रही ।
  • Powered by / Sponsored by :