कॉग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष दानसिंह हत्याकाण्ड का पर्दाफाश

कॉग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष दानसिंह हत्याकाण्ड का पर्दाफाश

जयपुर 4 अक्टुबर। भरतपुर जिला पुलिस ने उल्लेखनीय सफलता हासिल करते हुए जिले के बहुचर्चित कॉग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष श्री दानसिंह हत्याकाण्ड का पर्दाफाश करते हुए यूपी के दो शार्प शूटरो सहित पॉच आरोपियों को गिरफ्तार किया है।
जिला पुलिस अधीक्षक भरतपुर श्री अनिल कुमार टांक ने बताया कि 11 सितम्बर,2017 को शाम के समय करीब 7 बजे अपने गांव साबौरा से भरतपुर स्थित अपने निवास न्यू सिविल लाईन कालोनी भरतपुर पहॅुचने पर साबौरा सरपंच दानसिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी एवं मौके पर वारदात के
पश्चात बदमाश वारदात में प्रयुक्त दो देशी कटटे 315 बोर, एक मोटरसाईकिल बजाज डिस्कवर एवं बैग जिसमें दो गंडासे व कपडे मौके पर छोड गये थे। सूचना मिलने पर पुलिस ने तत्काल मौके पर पहुॅचकर कार्यवाही शुरू की घटना के संदर्भ में मृतक श्री के पुत्र गजेन्द्र सिंह रिपोर्ट पर अनुसंधान थानाधिकारी मथुरा गेट भरतपुर द्वारा प्रारम्भ किया गया।
मामले की संदेवनशीलता को देखते हुये महानिरीक्षक पुलिस भरतपुर रेंज भरतपुर श्री आलोक वशिष्ठ एवं पुलिस अधीक्षक भरतपुर श्री अनिल कुमार टांक द्वारा स्वयं सम्पूर्ण मामले पर निकट निगरानी रखते हुये निरन्तर टीम मीटिंग ली जाकर आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। पुलिस मुख्यालय से समन्वय स्थापित कर डॉग स्क्वॉड टीम बुलाकर घटनास्थल का बारीकी से निरीक्षण करवाया गया। घटनास्थल पर एफएसएल टीम बुलायी गई। उत्तर प्रदेश, हरियाणा व तेलंगाना पुलिस से सहयोग हेतु समन्वय किया गया।
श्री टांक ने बताया कि मुलजिमान प्रहलाद उर्फ धर्मेन्द्र, शाकिर, अनेक सिह, ओमवती व गुडडी से पूछताछ एवं तफ्तीश से सामने आया है कि मृतक दानसिंह गांव साबौरा सरपंच की गॉंव साबौरा के ही रतनसिंह चाहर के परिवारवालों से करीब 4 साल से रंजिश चल रही है इसी रंजिश के
चलते दोनो पक्षों में थाना कुम्हेर में एक दूसरे के विरूद्ध प्रकरण दर्ज हो रखे हैं। बढती हुयी रंजिश के कारण ही रतनसिंह चाहर व उसके परिवारवालों ने दानसिंह की हत्या करने का षडयंत्र रचा। उपरोक्त पॉचों मुलजिमान को गिरफ्तार किया गया है।
पुलिस अधीक्षक भरतपुर ने बताया कि भरतपुर शहर के पॉश इलाके में बीचो बीच हुयी इस सनसनीखेज एवं गम्भीर घटना के खुलासे के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुख्यालय भरतपुर श्री भरत लाल मीना के निकटतम एवं प्रभावी पर्यवेक्षण, सहायक पुलिस अधीक्षक ग्रामीण श्री धर्मेन्द्र सिंह के नेतृत्व
में थानाधिकारी मथुरा गेट, सेवर, उद्योगनगर, कुम्हेर, गोपालगढ, अटलबन्द, रूपवास, प्रभारी सीआईयू, साईक्लोन सैल भरतपुर और रिजर्व पुलिस लाईन एवं थानों के चुनिन्दा पुलिसकर्मीयों एवं अधिकारियों की एक विशेष टीम गठित की गई थी। टीम द्वारा संदिग्ध लोगो से पूछताछ की गई एवं शहर में विभिन्न स्थानों पर लगे प्राईवेट व सरकार द्वारा स्थापित अभय कमाण्ड सेन्टर के सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खगाली गयी व तकनीकी एवं गुप्त सूत्रों से मिली जानकारी के आधार पर मुलजिमानों के छिपे होने के संभावित स्थानो पर दिन रात लगातार काम कर अथक प्रयास करते हुये आपस में समन्वय बनाकर मुलजिमानों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की गई।
उत्तर प्रदेश से लाये थे दो शार्प शूटर, दो लाख की दी थी सुपारी रतन सिंह चाहर के परिवार से दानसिंह की पूर्व से चली आ रही रंजिश के कारण प्रहलाद उर्फ धर्मेन्द्र निवासी एलवारा थाना कोसी कलॉ जिला मथुरा को दो लाख रूपये की सुपारी तय की थी उसमें उसने प्रहलाद को 40 हजार रूपये एडवांस के रूप दे दिये उसके बाद प्रहलाद ने अपने दूसरे साथी शाकिर मेव निवासी चौकी बांगर (नगला उटावर) पुलिस थाना कोसी कलॉ के साथ दानसिंह को मारने की प्लानिंग बना ली। घटना से दस दिन पूर्व से रतन सिंह व अनेक सिंह के साथ मिलकर दोनो शार्प शूटर दानसिंह के संभावित स्थानों पर रैकी कर रहे थे।
गिरफ्तार शुदा मुलजिमान
1. प्रहलाद उर्फ धर्मेन्द्र पुत्र श्री ज्ञानेन्द्र जाट (28) साल निवासी एलवारा पुलिस थाना कोसी कलॉ जिला मथुरा (उ0प्र0) :- शार्प शूटर
2. शाकिर पुत्र श्री पप्पू मेव (27) निवासी चौकी बांगर (नगला उटावर) पुलिस थाना कोसी कलॉ जिला मथुरा (उ0प्र0) :- शार्प शूटर
3. अनेक सिंह पुत्र श्री रतन सिंह जाट (25) निवासी साबौरा थाना कुम्हेर जिला भरतपुर।
4. ओमवती पत्नि श्री रतन सिंह जाट (52) साल निवासी साबौरा थाना कुम्हेर जिला भरतपुर।
5. गुडडी देवी पत्नि श्री लाल सिंह जाट (45) साल निवासी साबौरा थाना कुम्हेर जिला भरतपुर।
उपरोक्त गिरफ्तार शुदा पॉचों मुलजिमानो को आज न्यायालय में पेश किया जाकर पुलिस रिमाण्ड प्राप्त किया जावेगा जिनसे प्रकरण की घटना के षडयंत्र में शामिल रहे अन्य मुलजिमानों के बावत गहनता से पूछताछ की जावेगी एवं साक्ष्य जुटाये जायेंगे।
  • Powered by / Sponsored by :