हनुमानगढ़: दलित युवक की हत्या के मामले में 4 अभियुक्त गिरफ्तार, एक नाबालिग निरुद्ध

हनुमानगढ़: दलित युवक की हत्या के मामले में 4 अभियुक्त गिरफ्तार, एक नाबालिग निरुद्ध

जयपुर, 10 अक्टूबर । हनुमानगढ़ जिले के सूरजगढ़ क्षेत्र में दलित युवक जगदीश मेघवाल से बेरहमी से मारपीट कर हत्या करने के बाद शव को पीलीबंगा के प्रेमपुरा गांव में उसके घर के आगे फेंकने के मामले में थाना पीलीबंगा पुलिस ने त्वरित कार्रवाई कर नामजद 4 आरोपियों को गिरफतार कर एक नाबालिग को निरुद्ध किया है। शेष आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु टीम गठित कर जगह जगह दबिशें दी जा रही है।
महानिदेशक पुलिस श्री एम एल लाठर ने बताया कि इस मामले में अब तक कुल 4 नामजद आरोपी मुकेश कुमार पुत्र हेत राम ओड, दलीप पुत्र हेत राम व सिकन्दर पुत्र कालु राम निवासी प्रेमपुरा थाना पीलीबंगा व हंसराज पुत्र काशी राम निवासी सरदारपुरा बीका थाना सदर सूरतगढ,को गिरफतार किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रकरण केस ऑफिसर स्कीम में लेकर शीघ्र पीड़ित परिवार को न्याय दिलाया जायेगा। मृतक जगदीश के परिवार को अनुसूचित जाति व जनजाति अत्याचार नियम के तहत 4 लाख 12 हजार 500 रुपये की आर्थिक सहायता कलेक्टर द्वारा स्वीकृत की जा चुकी है।
अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस अपराध डॉ रविप्रकाश ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि मृतक जगदीश पुत्र बनवारी लाल मेघवाल व आरोपी मुकेश ओड वगैरा गांव प्रेमपुरा में एक दूसरे के पड़ौसी है। मुकेश की पत्नी सुमन का मृतक जगदीश के साथ पिछले 4 साल से प्रेम प्रसंग को लेकर दोनों परिवारों में कई बार पंचायत भी हुई। मनमुटाव होने पर सुमन अपने पीहर चली गई और मुकेश के खिलाफ थाना सदर सूरतगढ़ में मुकदमा दर्ज करवा दिया। दोनों परिवारों के बीच पंचायत में आपसी राजीनामा होने से दोनों अलग अलग हो गये। इधर मृतक जगदीश की पत्नी मंजू ने भी मनमुटाव के चलते जगदीश के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करवाया था, जिसमें कोर्ट में चालान में पेश किया जा चुका है।
एडीजी ने बताया कि अलग होने के बाद मुकेश की पत्नी सुमन, बच्चों के साथ पिछले दो साल से सुरतगढ में किराये का मकान लेकर रह रही है। जहां सुमन के जगदीश से मिलने की बात आरोपी मुकेश कुमार एवं उसके परिवार वालों को पता चलने पर घटना के दिन 7 अक्टूबर को वे सूरतगढ़ में सुमन के किराये के मकान में पहुंचे। उस वक्त वहीं मौजूद जगदीश को अगवा कर सूरतगढ़ स्थित फॉर्म में ले जाकर आरोपीयों ने उसके साथ लाठियों से मारपीट की। गम्भीर रूप से घायल कर मोटर साईकिल पर बैठा कर प्रेमपुरा में उसके घर के आगे पटक कर चले गये। परिजनों ने सम्भाला तक तक जगदीश की मौत हो चुकी थी।

एडीजी डॉ रविप्रकाश ने बताया कि जानकारी मिलते ही यह ना देखते हुए की कौनसे इलाके का मामला है, पीलीबंगा पुलिस ने तुरन्त हत्या, अपहरण व धारा 3 एससी एसटी में मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की तलाश में पीलीबंगा एंव सूरतगढ थाना क्षेत्र में टीमें भेज कर मुख्य आरोपी मुकेश कुमार को तुरन्त राउण्ड अप कर लिया था। अनुसंधान वृताधिकारी रावतसर रणवीर सिंह मीणा द्वारा किया जा रहा है।
  • Powered by / Sponsored by :