39 फीसद निवेश क्रियान्विति की ओर, ज्यादा से ज्यादा निवेश को धरातल पर लाने के लिए की जा रही माइक्रो मॉनिटरिंग - अतिरिक्त मुख्य सचिव, उद्योग एवं वाणिज्य

39 फीसद निवेश क्रियान्विति की ओर, ज्यादा से ज्यादा निवेश को धरातल पर लाने के लिए की जा रही माइक्रो मॉनिटरिंग - अतिरिक्त मुख्य सचिव, उद्योग एवं वाणिज्य

जयपुर, 4 अगस्त। उद्योग एवं वाणिज्य विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव श्रीमती वीनू गुप्ता ने कहा कि इन्वेस्ट राजस्थान समिट के लिए अब तक लगभग 39 फीसद निवेश मूर्त रूप ले चुका है या क्रियान्वित हो रहा है। उन्होंने कहा कि ज्यादा से ज्यादा निवेश को धरातल पर उतारने के विभाग द्वारा माइक्रो मॉनिटरिंग की जा रही है।

श्रीमती गुप्ता ने गुरुवार को उद्योग भवन में आयोजित महाप्रबंधकों और संबंधित अधिकारियों की बैठक में यह बात कही। वे ’’इन्वेस्ट राजस्थान’’ समिट से जुड़े एमओयू और एलओआई की प्रगति व विभागीय योजनाओं की समीक्षा कर रही थीं। उन्होंने कहा कि 40 प्रतिशत से अधिक निवेश को धरातल पर लाने के लिए अधिकारियों को थोड़ी ज्यादा सजगता दिखानी होगी। उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि निवेशकों के प्रस्ताव किसी भी कमी की वजह से अटके हुए हैं, तो अधिकारी स्वयं दिलचस्पी लेते हुए उन्हें दुरुस्त करवाएं।

अतिरिक्त मुख्य सचिव ने अधिकारियों को ऐसे निवेशकों पर ज्यादा ध्यान देने के निर्देश दिए जो उचित रूपरेखा व क्षेत्रीय निवेश संबंधी जानकारी के अभाव में निवेश नहीं कर पाते हैं। उन्होंने ऐसे निवेशकों को पर्याप्त मार्गदर्शन व आवश्यकतानुसार मदद करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिला और राज्य स्तर पर अधिकारियों की पूरी टीम निरंतर मॉनिटरिंग कर रही है, ताकि निवेशकों को किसी भी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े।

आयुक्त श्री महेंद्र कुमार पारख ने मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना, रिप्स 2019, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना मिशन निर्यातक बनो सहित विभिन्न योजनाओं की प्रगति जानी व आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए। इस दौरान जिला स्तरीय बैठकों, क्लस्टर विकास कार्यक्रम के तहत संचालित परियोजनाओं और प्राप्त प्रस्ताव, ग्रामीण और शहरी हाट के संचालन, सिंगल यूज प्लास्टिक जागरूकता शिविर, सिलकोसिस अवेयरनेस शिविर, वृक्षारोपण कार्यक्रम, बायर्स सेलर्स मीट, उद्योग विभाग-एक संवाद कार्यक्रम के बारे में भी विस्तार से चर्चा की गई। बैठक में विभाग के वरिष्ठ अधिकारीगण व कर्मचारीगण उपस्थित रहे।
  • Powered by / Sponsored by :