मेला क्षेत्र में वाहनों हेतु उपयुक्त व्यवस्था किया जाना सुनिश्चित करें - जिला कलक्टर

मेला क्षेत्र में वाहनों हेतु उपयुक्त व्यवस्था किया जाना सुनिश्चित करें - जिला कलक्टर

धौलपुर, 21 सितम्बर। शरद मेला एवं शरद महोत्सव की रूप रेखा तैयार करने व उसकी तैयारियों के सम्बन्ध में मेले के दौरान मेलार्थियों को मुल भूत सुविधाऐं उपलब्ध कराये जाने के साथ ही आवश्यक व्यवस्थाऐं सुनिश्चित करने के सम्बनध में जिला कलक्टर अनिल कुमार अग्रवाल की अध्यक्षता में मेला समिति की बैठक का आयोजन नगर परिषद सभागार में किया गया।
बैठक में जिला कलेक्टर ने कहा कि महत्वपूर्ण मेले के विशेष आकर्षण एवं आयेजित किये जाने वाले कार्यक्रमों का प्रचार प्रसार किया जाना आवश्यक है। प्रचार-प्रसार करने के लिये पम्पलेट्य, पोस्टर, फ्लैक्स तैयार करते हुये अन्य जिलों व राज्यों के व्यापारियों, दुकानदारों आदि को दुकान लगाने हेतु आयुक्त नगर परिषद, उप निदेशक पर्यटक स्वागत केन्द्र भरतपुर को निर्देशित किया गया। मेला क्षेत्र के प्रमुख स्थान जहां से सम्पूर्ण मेला क्षेत्र नियन्त्रित हो सके, मेला केन्द्र कक्ष स्थापित करने व तीन नियन्त्राण कक्ष प्रभारियों की नियुक्ति आठ-आठ घण्टे के हिसाब से करने हेतु आयुक्त नगर परिषद को निर्देशित किया गया। नियन्त्राण कक्ष 24 घण्टे कार्यरत रहेगा। मेला नियन्त्राण कक्ष में आवश्यक सेवाओं स्वास्थ्य, बिजली, पानी, सुरक्षा, अग्निशमन आदि से सम्बन्धित विभागों का एक दल हमेशा उपलग्ध रहने तथा पर्याप्त मात्रा में प्राथमिक उपचार सामग्री, फायर बिग्रेड, आदि उपलग्ध रखने हेतु सम्बन्धित अधिकारियों को तथा नियन्त्राण कक्ष में सभी महत्वपूर्ण विभागों के उच्च अधिकारियों, मेला ड्यूटी में लगे अधिकारियों, थाना, अस्पताल, नगर पालिक, प्रशासनिक अधिकारियों आदि के टेलीफोन वं मोबाईल नम्बर उपलब्ध रखने के निर्देश दिये मेले का लेऑउट प्लान तैयार कर प्रस्तुत करना, मेले की लाईट सफाई एवं अन्य व्यवस्थाऐं, लाईटिंग, टैंट, पार्किंग आदि शामिल है।
मेले के दौरान अधिक संख्या में दर्शनार्थियों, व्यक्तियों के आने के कारण रिक्शा, टेम्पों आदि में काफी भीड भाड रहती है। ऐसी स्थिति में मेला क्षेत्र में वाहनों हेतु उपयुक्त पार्किंग की व्यवस्था करने तथा पार्किंग क्षेत्र में वाहन के प्रवेश व निकास की अलग-अलग व्यवस्था करने, पार्किंग स्थल पर ठहरने व शौचालय की व्यवस्था करें।
उन्होंने कहा शरद मेला व शरद महोत्सव के दौरान एक एम्बूलैंस मय चिकित्सकों, आवश्यक दवाइयों आदि की व्यवस्था के मेला नियन्त्रण कक्ष में उपस्थित रहने तथा एक मेडीकल टीम बिना एम्बूलैंस के मेला स्थल पर उपस्थित रखने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित किया गया। मेले में खाने पीने की सामग्री की जाँच समय-समय पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, अपने निरीक्षकों द्वारा करने के निर्देश दिए।
विद्युत व्यवस्था सुनिश्चित करने, मेले स्थल पर आने वाली बिजली सम्बन्धी समस्याओं के निस्तारण करने हेतु जो 24 घण्टे मेला नियन्त्राण कक्ष में उपस्थित रहेगा, गठित करने हेतु व समय-समय पर व्यवस्थाओं की मॉनिटरिंग करने हेतु अधीक्षण अभियन्ता जेवीवीएनएल अधिशाषी अभियन्ता जेवीवीएनएल को निर्देशित किया गया। अधिशाषी अभियन्ता जेवीवीएनएल मेला क्षेत्र का मौका निरीक्षण करेंगे तथा यह सुनिश्चित करेंगे कि मेला क्षेत्र में कोई तार टूटा हुआ, ढीला अथवा ऐसा न हो जिससे किसी भी प्रकार की दुर्घटना होने की सम्भावना हो।
मेला स्थल पर उपयुक्त स्थान का चयन कर स्वच्छ पानी की व्यवस्था कराने हेतु आयुक्त नगर परिषद अधिशाषी अभियन्ता पीएचईडी को निर्देशित किया गया। मेले में किये जाने वाले प्रत्येक कार्यक्रम का प्रचार प्रसार कराना मेले में दुकान लगाने वाले दुकानदारों को दुकान के सामने कचरा पात्र रखने के लिये पायबंद किया जाये। मेला में किसी भी दुकानदार को प्लास्टिक नही रखने दिया जाये इसके लिये दुकानों का आवंटन करते समय जानकारी दे दी जाये। मेले के दौरान प्लास्टिक थैली में सामान बेचने वाले दुकानदारों के विरूद्ध आवश्यक कार्यवाही की जायेगी।
उन्होने कहा कि मेले के दौरान लगने वाली खाद्य दुकानों के निरीक्षण एवं परीक्षण की व्यवस्था करना अनिवार्य है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग व पीएचईडी विभाग द्वारा मेला स्तर पर पेयजल के सैम्पलिंग की जाये।
जिला पुलिस अधीक्षक धर्मेन्द्र सिंह ने कहा कि मेले के दौरान मेला क्षेत्र में प्रत्येक महत्वपूर्ण स्थानों पर पर्याप्त मात्रा में सुरक्षा कर्मी तैनात करने व सीसीटीवी कैमरे लगाने, आयुक्त नगर परिषद के साथ समन्वय स्थापित कर प्रमुख रास्तों पर, मेला क्षेत्र के महत्वपूर्ण स्थानों पर पर्याप्त मात्रा में रिजर्व बल आदि उपलब्ध रखने, मेला परिसर में वाहनों का प्रवेश न हो इस हेतु आवश्यक व्यवस्था कराने, पूर्व में मेला आयोजन में जिन गुटों में झगडे या मुकदमें हो अथवा असामाजिक तत्वों के विरूद्ध निषेधात्मक कानूनी कार्यवाही की जायेगी।
बैठक में नगर परिषद सभापति खुशबू सिंह ने कहा कि मेला स्थल पर अधिक से अधिक सुविधा प्रदान करने की कार्यवाही की जा रही है। मेले में किसी प्रकार की असुविधा नहीं होने दी जाएगी। मेले में स्वच्छता को ध्यान में रखते हुए चल शौचालय एवं स्थाई शौचालय की भी व्यवस्था की गई है। मेले का लेआउट प्लान तैयार कर लिया गया है। बैठक में मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद चेतन चौहान, अतिरिक्त जिला कलक्टर सुदर्शन सिंह तौमर, उपखण्ड अधिकारी भारती भारद्वाज सहित सम्बन्धित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।
  • Powered by / Sponsored by :