सामूहिक रणनीति से बढें ठोस एवं तरल कचरा प्रबंधन की ओर

सामूहिक रणनीति से बढें ठोस एवं तरल कचरा प्रबंधन की ओर

चूरू, 21 सितंबर। स्वच्छता ही सेवा अभियान के तहत ग्राम पंचायत भूखरेड़ी में सरपंच सावित्री देवी की अध्यक्षता में बुधवार को हुए कार्यक्रम में सामूहिक रणनीति से ठोस एवं तरल कचरा प्रबंधन पर बल दिया गया।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बीडीओ दुर्गाराम पारीक ने कहा कि ‘स्वच्छता ही सेवा अभियान’ एक पखवाड़े तक चलने वाला अभियान है परन्तु स्वच्छता हमारे जीवन का दैनिक कार्य है। हमारे दिन की शुरुआत ही स्वच्छता से होती है। इसमें चाहे शौचालय का प्रतिदिन उपयोग हो, घर-गलियों की साफ-सफाई हो। हमारी माता-बहिनें प्रतिदिन साफ-सफाई का कार्य करती हैं परन्तु आज भी हमें ठोस रणनीति से सामूहिक प्रयास से गांव को ठोस एवं तरल कचरा प्रबंधन की ओर आगे बढ़ाना है। प्रतिदिन गांव में जो कचरा इकठा होता है, वह गलियों में बिखरता है जिसके कारण गांव की गलियां व सार्वजनिक स्थान साफ दिखाई नहीं देते। इसके लिए घर-घर कचरा संग्रहण की व्यवस्था ग्राम पंचायत द्वारा की गई है, इसका उपयोग करें तथा गांव में सार्वजनिक कचरे को कचरा पात्र में डालें। घरों के कचरे को कचरा पात्र में एकत्र करें। ग्राम पंचायत दुकानों से शुल्क तय करके स्वच्छता अभियान को निरन्तर जारी रखे।
उन्होंने कहा कि शादियों व मेलों में सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग बन्द किया जाये ताकि गन्दगी पर काबू पाया जा सके व पर्यावरण भी स्वच्छ रहे। उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन (ग्रा.) के अन्तर्गत ग्राम पंचायतों में मैजिक पिट व नालियों का निर्माण करवाया जा रहा है, कचरा पात्र रखवाए जा रहे हैं, इसका रख-रखाव ग्रामवासियों को करना चाहिए ताकि व्यवस्था सुचारू चल सके। इस अभियान में हमारी सब की भूमिका बनी रहे, ऎसा प्रयास करें। इस अवसर पर घर-घर कचरा संग्रहण के लिए वाहन को रवाना किया गया। उपस्थित लोगों ने सामूहिक श्रमदान किया। आमजन को स्वच्छता के लिए जागरुक किया गया।
इस अवसर पर अतिरिक्त विकास अधिकारी प्रेम कुमार शर्मा, दलीप सिहाग, सहायक विकास अधिकारी लालचन्द, ग्राम विकास अधिकारी श्रीराम, कनिष्ठ तकनीकी सहा. दलीप गुर्जर, कनिष्ठ सहायक जवाहर सिंह, महिला पर्यवेक्षक शमीम बानो व पी.ई.ई.ओ. नित्यानन्द कड़वासरा, विजयपाल आयुर्वेद चिकित्सक, राधेश्याम पटवारी, पंचायत सहायक विनोद सिहाग, प्रेमाराम महला अध्यक्ष ग्राम सहकारी समिति, सुनिल कुमार पशुधन सहायक, जवाहर सिंह भाम्भू, घड़सीराम वार्ड पंच, शिवरतन शर्मा, सुल्तान सिहाग, देवीलाल, सुदेवाराम बड़ज्याती, विद्याधर भाम्भू, रामरत्न महर्षि, रणजीत महिया, सांवरमल मेघवाल, विकास नाई, तेजाराम नायक आदि सहित अध्यापक, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहित गांव के गणमान्य लोग उपस्थित थे।
  • Powered by / Sponsored by :