जेल से अंतरिम जमानत से फरार वांछित आरोपी गिरफ्तार

जेल से अंतरिम जमानत से फरार वांछित आरोपी गिरफ्तार

जयपुर/चित्तौड़गढ़, 19 जून। चितौड़गढ़ में निकुम्भ थाने के तहत एनडीपीएस एक्ट के 1 क्विंटल 43.500 किलोग्राम डोडा चूरा जब्ती के मामले मे न्यायिक हिरासत से अंतरिम जमानत से फरार होने पर पुलिस थाना कोतवाली चित्तौडगढ पर दर्ज प्रकरण में वांछित आरोपी को पुलिस की विशेष टीम ने एमपी के डिकेन से गिरफतार किया हैं।
पुलिस अधीक्षक सुधीर जोशी ने बताया गया कि 06 जनवरी 2020 को थानाधिकारी निकुम्भ ने नाकबंदी के दौरान एक बोलेरो पीक-अप मे भरा हुआ 143 किलो 500 ग्राम डोडा चूरा जब्त कर आरोपी लाभचन्द पाटीदार पुत्र बापुलाल (39) निवासी गांव डिकेन थाना रतनगढ जिला नीमच एमपी को गिरफतार कर न्यायिक अभिरक्षा मे भिजवाया था।
आरोपी लाभचन्द को स्वयं के ईलाज कराने के लिए उच्च न्यायालय जोधपुर के आदेश से 02 अप्रैल 2022 से 01 सितंबर 2022 तक अंतरिम जमानत पर रिहा करने की के अवधि बढ़ाकर 12 जनवरी 2023 तक जिला कारागृह चित्तौड़गढ़ पर उपस्थित होने हेके लिए पांबद किया गया था। परन्तु लाभचन्द अतंरिम जमानत अवधि उपभोग के बाद जिला कारागृह चित्तौड़गढ़ पर उपस्थित नही होकर फरार हो गया। जिस पर लाभचन्द के खिलाफ कोतवाली चित्तौड़गढ़ पर फरारी का प्रकरण दर्ज कर आरोपी की तलाश की गई।
एएसपी परबत सिंह व डीएसपी निम्बाहेड़ा बद्री लाल राव के निर्देशन में थानाधिकारी कोतवाली निम्बाहेडा रामसुमेर व थानाधिकारी सदर निम्बाहेडा संजय शर्मा द्वारा एक विशेष टीम एएसआई सूरज कुमार कोतवाली निम्बाहेडा, एएसआई लेखराज सदर निम्बाहेडा, एएसआई देवी लाल सेन थाना कोतवाली चित्तौडगढ, कानिस्टेबल देवेन्द्र, विरेन्द्र, राकेश, सुरेन्द्र पाल, रतन, मुकेश, भूप सिंह की टीम का गठन किया गया।
टीम को सूचना मिली कि वांछित आरोपी लाभचन्द अपने घर पर ही रहकर किसी खेत पर रहता है। इस पर एएसआई सूरज कुमार मय टीम के आरोपी के गांव में उस खेत पर पहुंचे जहां यह रहता था। जहां से आरोपी को डिटेन कर लाकर थानाधिकारी थाना कोतवाली चित्तौड़गढ़ को सपुर्द किया।
  • Powered by / Sponsored by :