भारत दुनिया के सबसे आकर्षक निवेश स्थलों में से एक बन चुका है, भारत के साथ काम करने के लिए अमेरिकी व्यवसायों, उद्यम पूंजीपतियों और स्टार्टअप्स में उत्साह - केन्द्रीय मंत्री पियूष गोयल

भारत दुनिया के सबसे आकर्षक निवेश स्थलों में से एक बन चुका है, भारत के साथ काम करने के लिए अमेरिकी व्यवसायों, उद्यम पूंजीपतियों और स्टार्टअप्स में उत्साह - केन्द्रीय मंत्री पियूष गोयल

वाणिज्य और उद्योग, उपभोक्ता कार्य, खाद्य और सार्वजनिक वितरण तथा कपड़ा मंत्री श्री पीयूष गोयल ने सैन फ्रांसिस्को में फाउंडेशन फॉर इंडिया एंड इंडियन डायस्पोरा स्टडीज (FIIDS) और ग्लोबल इंडियन टेक्नोलॉजी प्रोफेशनल्स एसोसिएशन (GITPRO) के नेताओं के साथ बातचीत की। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि भारत के विकास की कहानी का हिस्सा बनने के लिए भारत में निवेश और संचालन स्थापित करने के लिए तकनीक-समुदाय से आग्रह किया।

केन्द्रीय मंत्री पियूष गोयल ने अमेरिका में छह क्षेत्रों में इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेन्ट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) की शुरूआत करने के बाद सैन फ्रांसिसको में उपस्थितजनों को सम्बोधित किया। इस दौरान केंद्रीय मंत्री पियूष गोयल ने आजादी के अमृत महोत्सव पर सभी को बधाई दी। उन्होंने आगे कहा कि अगले 25 वर्ष का समय भारत के लिये बहुत महत्त्वपूर्ण है। आईसीएआई की भी भारत की इस यात्रा में अहम भूमिका है। उन्होंने कहा कि वे उस दिन की प्रतीक्षा कर रहे हैं, जब आईसीएआई के एक सौ अंतर्राष्ट्रीय कार्यालय हो जायेंगे।
केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि भारत तेजी से विकसित होते देशों में शामिल हो गया है। उन्होंने कहा कि 2014 से ही भारत लगातार मुद्रास्फीति पर नजर बनाये हुये है तथा सरकार उसी समय से सुनिश्चित कर रही है कि मुद्रास्फीति भारतीय रिजर्व बैंक की प्राथमिकता बनी रही। उन्होंने कहा कि 2014 से भारत में मुद्रास्फीति औसतन 4.5 प्रतिशत रही है, जो आजादी के बाद से किसी भी आठ वर्षीय शासनकाल के दौरान अब तक की सबसे कम दर है।
केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि भारत-अमेरिका के संबंध अभूतपूर्व रहे हैं। माल के मामले में हमारा द्विपक्षीय व्यापार $159 बिलियन का है। भारत ने कोविड के दौरान किसी भी आपूर्ति श्रृंखला को बाधित किए बिना अपनी सभी अंतरराष्ट्रीय प्रतिबद्धताओं को पूरा किया। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि COVID, यूक्रेन-रूस के बीच संघर्ष के साथ, दुनिया भर में मुद्रास्फीति में वृद्धि हुई है। विकसित देशों में भी मुद्रास्फीति 10-11% है जबकी भारत में यह दर 6 -7% के बीच है।
उन्होंने कहा कि भारत में गेम-चेंजिंग आर्थिक सुधार किए गए हैं। आर्थिक गतिविधियों की सीमाओं का विस्तार करने के लिए नया जोश है। भारत में विकास दर बताती है कि हम 30 वर्षों में 30 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने की ओर अग्रसर हैं। भारत दुनिया के सबसे आकर्षक निवेश स्थलों में से एक बन चुका है। विश्व के नेता और विकसित देश भारत के साथ अपने जुड़ाव को बढ़ाने का प्रयास कर रहे हैं। वे भारत के साथ व्यापार को बढ़ाने के लिए द्विपक्षीय समझौतों की तलाश कर रहे हैं।
केंद्रीय मंत्री गोयल ने कहा कि भारत एक ऐसी जगह है, जिसे आज कोई भी निवेशक छोड़ना नहीं चाहेगा। यहां पर एक अरब से अधिक उम्मीदें हैं। इसके साथ जोर देते हुए कहा कि हमें ऐसे सभी क्षेत्रों में कॉर्पोरेट करना होगा, जहां हमारे आपसी हित जुड़े हुए हैं। उन्होंने कहा कि भारत के साथ काम करने के लिए अमेरिकी व्यवसायों, उद्यम पूंजीपतियों और स्टार्टअप्स में उत्साह वास्तव में अभूतपूर्व है। हमने संगठनों के विभिन्न व्यवसायियों से मुलाकात की है जो स्टार्टअप्स को नेविगेट करने में मदद करते हैं। इससे पहले पीयूष गोयल ने सोमवार को सैन फ्रांसिस्को के गदर मेमोरियल में महात्मा गांधी की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की।
  • Powered by / Sponsored by :