भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव भाटिया ने नेशनल हेराल्ड मामले में राहुल गाँधी से किये सवाल

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव भाटिया ने नेशनल हेराल्ड मामले में राहुल गाँधी से किये सवाल

नेशनल हेराल्ड मामले में भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव भाटिया ने दिल्ली पार्टी मुख्यालय पर प्रेस वार्ताकर राहुल गाँधी से कुछ सवाल किये और उनके जबाव मांगे। बीजेपी ने कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी को ये बताना आवश्यक है कि नेशनल हेराल्ड मामले में जिस प्रकार का आचरण कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं द्वारा किया जा रहा है, ये उचित नहीं है। पहले आप चोरी करते हैं, देश को लूटते हैं और उसके बाद पूरे देश में अराजकता फैलाने का प्रयास कर रहे हैं।
उन्होंने कहा कि सोनिया गांधी और राहुल गांधी दोनों भ्रष्टाचार के आरोप में जमानत पर बाहर हैं। उन्होंने कहा कि जो सवाल जनता पूछ रही है और हम यहां से उठा रहे हैं, आप उनका उत्तर दें।
उन्होंने कहा कि ये अनर्गल बयान सुनने में आ रहे हैं कि ईडी को सोनिया गांधी से, राहुल गांधी से पूछताछ के लिए उनके घर जाना चाहिए। कांग्रेस के लिए सोनिया गांधी और राहुल गांधी संविधान से ऊपर हैं। लेकिन कोई आरोपी है तो कानून कहता है कि उससे पूछताछ होगी और पूछताछ करने वाली एजेंसी के ऑफिस में ही होगी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और गांधी परिवार के करीबी मोतीलाल वोरा के सिर पर पूरा ठीकरा फोड़ा जा रहा है। ये कहा जा रहा है कि हमें कुछ पता ही नहीं है, जो किया वो मोतीलाल वोरा जी ने किया। क्या ये सत्य नहीं कि यंग इंडिया में 38 % राहुल गांधी की है और 38 % सोनिया गांधी की हिस्सेदारी है? 50% से ज्यादा हिस्सेदारी में आपका कंट्रोलिंग स्टेक है। जब कंट्रोलिंग स्टेक राहुल गांधी और सोनिया गांधी का है, तो ठीकरा एक ऐसे व्यक्ति पर फोड़ा जा रहा है जो आज दुनिया में नहीं है। ये जो घोटाला हुआ, मनी लॉन्ड्रिंग की गई, ये किसने किया? ये फैसला किसने लिया था? जिस कंपनी के पास कोई संपत्ति नहीं है उसे दूसरी कंपनी एक करोड़ रुपये क्यों देती है। राहुल गांधी की जेब से एक रुपया भी नहीं गया। लेकिन 2,000 करोड़ रुपये की संपत्ति का कंट्रोलिंग स्टेक उनका हो गया। ऐसा हमने कभी नहीं देखा, ये कैसे हो गया राहुल गांधी इसका भी जवाब दें।
आपको बतादें कि नेशनल हेराल्ड केस को लेकर ईडी ने कल एक बड़ा एक्शन किया। उसने नेशनल हेराल्ड के यंग इंडिया लिमिटेड के कार्यालय को सील कर दिया। इसके साथ ही ईडी ने निर्देश दिया है कि एजेंसी की अनुमति के बिना परिसर नहीं खोला जाए। नेशनल हेराल्ड के कार्यालय पर ED ने ऑफिस को बिना पूर्व इजाजत नहीं खोलने का नोटिस लगाया है। ईडी को जाँच के दौरान नेशनल हेराल्ड के कार्यालय से कुछ जरुरी चीजें मिले। जिसके बाद ईडी ने नेशनल हेराल्ड के कार्यालय को सील करने का फैसला लिया।
वहीं ईडी को कोलकाता और मुम्बई में सर्च के दौरान कुछ संदिग्ध एंट्री मिली है। साथ ही जानकारी के अनुसार सर्च के दौरान हवाला ट्रांजेक्शन के भी सुराग मिले हैं। कोलकाता में डॉटेक्स कंपनी के दफ्तर से यंग इंडिया को दिए गए 50 लाख रुपये के लोन से जुड़े अहम दस्तावेज भी बरामद हुए हैं।
  • Powered by / Sponsored by :