समाज के अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति को मिले योजनाओं का लाभरू भंवर सिंह भाटी

समाज के अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति को मिले योजनाओं का लाभरू भंवर सिंह भाटी

बीकानेर 12 अक्टुबर। उच्च शिक्षामंत्री भंवर सिंह भाटी ने कहा कि राज्य सरकार आमजन की समस्याओं के समाधान के लिए कृतसंकल्पित है। प्रशासन गांवों के संग अभियान चलकार प्रशासन गांव-गांव पहुंचकर मौके पर ही ग्रामीणों की समस्या का समाधान कर रहा है।
उच्च शिक्षामंत्री भंवर सिंह भाटी मंगलवार को सीमावर्ती ग्राम पंचायत बरसलपुर में आयोजित प्रशासन गांवों के संग अभियान में ग्रामीणों को सम्बोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने शिविर में सेवाएं दे रहे 22 विभागों के अधिकारियों से विभागीय कार्यों के बारे में फीडबैक लिया और आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए कहा कि वे अपने-अपने विभाग से सम्बन्धित कार्यों को संवेदनशीलता से सम्पन्न करवाएं। आमजन द्वारा जो भी प्रार्थना पत्र दिया जाए, उसकी जांच कर शिविर में ही उसे लाभान्वित किया जाए।
भाटी ने अधिकारियों से कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत की मंशा पर खरा उतरें। यह तभी संभव होगा, जब जनकल्याणकारी योजनाएं धरातल पर दिखाई दें। समाज के अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति को सरकारी योजना का लाभ मिलने पर ही इन शिविरों की सार्थकता साबित होगी ।
उच्च शिक्षामंत्री ने शिविर में समस्याओं के बारे में जानकारी ली और पानी, बिजली, सड़कों और राजस्व प्रकरणों के निस्तारण के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि सीमाज्ञान और पत्थरगढ़ी, विद्युत सप्लाई, खराब मीटर, हैण्ड पम्प मरम्मत एवं पाइप लाईन लीकेज ठीक करने, जन आधार में नाम जुड़वाने और हटाने, शौचालय निर्माण के लिए आवेदन करने वालों को तत्काल राहत दी जाए। आज का काम पूरा करके ही शिविर का समापन करे। उन्होंने कहा कि शिविर स्थल पर रोगियों के स्वास्थ्य की जांच एवं कोविड -19 की जांच की व्यवस्था की गई है। जिन लोगों ने वैक्सीनेशन नहीं करवाया है वे वैक्सीनेशन अवश्य करवाएं।
उन्होंने कहा कि जिन लोगों को सरकार की योजना की जानकारी नहीं है और उसे किस विभाग में अपनी समस्या को हल करवाना है, उसकी जानकारी देने के लिए शिविर में हैल्प डेक्स लगाई गई है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण इसकी सहायता लेकर आवेदन पत्रों को भरवाएं। शिविर प्रभारी यह सुनिश्चित करें कि आवेदन पत्र लाभार्थी से निःशुल्क भरवाये जाएं। हैल्प डेस्क में सूचना सहायक एवं आईटी से जुड़े अन्य कर्मचारी उपलब्ध हो यह भी सुनिश्चित किया जाए, ताकि आमजन को फार्म भरने से लेकर अन्य प्रक्रियाओं के लिए इधर-उधर नहीं भटकना पडे़।
भाटी ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि राजस्व कार्यों के लिए आमजन को सरकारी कार्यालयों में चक्कर काटने पड़ रहे थे, परंतु इन शिविरों में सभी अधिकारी मौजूद है और वे राजस्व से संबंधित सभी समस्याओं का शिविर में ही समाधान करेंगे। यह व्यवस्था इसलिए करनी पड़ी कि ग्रामीणों को राजस्व कार्या के लिए पटवारी, तहसीलदार व अन्य राजस्व कर्मियों के यहां चक्कर लगाने पड़ते थे। परंतु इस शिविर में आज राजस्व अधिकारियों के अलावा 22 विभाग मौजूद हैं । ग्रामीण विभाग से संबंधित अपनी समस्याओं का समाधान करवाएं। पात्र व्यक्ति को लाभ मिलना ही चाहिए, यह सरकार की सर्वाच्च प्राथमिकता में है। उन्होंने कहा कि जिन लोगों को सरकारी योजनाओं का ज्ञान नहीं है, वे अन्य लोगों को जानकारी लेकर समस्याओं का समाधान करवाएं।
उच्च शिक्षा मंत्री को जब यह पता चला कि राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय बरसलपुर में स्थान के अभाव में छात्रों की शिक्षा बाधित हो रही है तो उन्होंने उपखंड अधिकारी और तहसीलदार को निर्देश दिए कि गांव में उपलब्ध अराजी राज भूमि में से 12 बीघा भूमि स्कूल को आवंटित करें। उन्होंने निर्देश दिए कि आज ही स्कूल के नाम भूमि का पट्टा जारी हो जाना चाहिए। उन्होंने विद्यालय भवन का निरीक्षण भी किया और छात्र-छात्राओं को हो रही परेशानियों को जाना।
इस मौके पर उन्होंने 7 लोगों को आबादी भूमि के पट्टे, चक 21 बीएसडी में नवीन आबादी का पट्टा, 9 लोंगों को जॉब कार्ड, एक विधवा को पेंशन का पीपीओ, 4 लोगों को प्रधानमंत्री आवास की द्वितीय प्रदान की। उन्होंने शिक्षा एवं सामाजिक न्याय अधिकारिता विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि पालनहार योजना के तहत कवर होने वाले बच्चों के आवेदन प्राप्त हुए हैं, उन्हें आज ही पालनहार योजना से जोड़ा जाए।
उन्होंनें कहा कि शिविरों के दौरान सभी उपखण्ड स्तरीय अधिकारी मौजूद रहें, यह सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कृषि विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि कृषि यंत्रों के अनुदान से सम्बिन्धित आवेदन मिलने पर नियमानुसार कार्यवाही की जाए। उन्होंने जैविक खेती, डिग्गी, खेत तलाई, फंवारा अनुदान ड्रिप व मिनी स्प्रिंकलर के सम्बन्ध में मिलने वाले आवेदनों पर शीघ्र कार्यवाही करें। उन्होंने क्षेत्र में फसल खराबे की जानकारी ली और निर्देश दिए कि जिन किसानों की फसल खराब हुई है, उन्हें फसल बीमा योजना का लाभ दिलाया जाए।
उन्होंने विद्युत विभाग के अभियंता को निर्देश दिये कि दीनदयाल उपाध्याय योजना के तहत विद्युतिकृत होने से वंचित ढाणियों में विद्युत कनेक्शन दिए जाएं। साथ ही बरसलपुर में विद्युत के जो ढीले तार हैं, उन्हें आज ही कसवाने की कार्यवाही की जाए।
इस अवसर पर बज्जू उपखण्ड अधिकारी हरि सिंह शेखावत, विकास अधिकारी दिनेश सिंह भाटी, अतिरिक्त विकास अधिकारी व शिविर प्रभारी अमर सिंह बीका, तहसीलदार बिहारी लाल, सरपंच मीरा देवी, पंचायत समिति सदस्य मेवा राम सहित 22 विभागों उप खण्ड स्तरीय अधिकारी एवं बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित थे।
  • Powered by / Sponsored by :