बजट घोषणाओं के क्रियान्वयन की जानी प्रगति

बजट घोषणाओं के क्रियान्वयन की जानी प्रगति

बीकानेर, 13 सितम्बर। जिला कलक्टर नमित मेहता ने सोमवार को बजट घोषणाओं के क्रियान्वयन की प्रगति जानी। उन्होंने कहा कि प्रत्येक विभाग बजट घोषणाओं को समयबद्ध पूर्ण करें। उच्च स्तर पर इनकी नियमित समीक्षा की जाए। किसी भी स्थिति में इसमें लापरवाही सहन नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि भूमि आवंटन से संबंधित मामलों का प्राथमिकता से निपटारा किया जाए। प्रत्येक कार्य की प्रगति से सूचित किया जाए तथा इसे सीएमआईएस पोर्टल पर अपडेट भी किया जाए। उन्होंने बजट घोषणाओं की विभागवार समीक्षा की तथा इनकी वर्तमान स्थिति की जानकारी ली। साथ ही उन्होंने संपर्क पोर्टल के लंबित एवं निस्तारित प्रकरणों के बारे में जाना। उन्होंने कहा कि निर्धारित अवधि के पश्चात् कोई भी प्रकरण लंबित नहीं रहे। इसमें गति लाई जाए। अधिकतम लंबित प्रकरण वाले अधिकारियों की जिम्मेदारी तय करते हुए उनके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि फ्लेगशिप योजनाओं का प्रभावी क्रियान्वयन किया जाए, जिससे लक्षित वर्ग को इनका लाभ हो।
इन बजट घोषणाओं की हुई समीक्षा
बैठक के दौरान जिला कलक्टर ने जिले में मिनी फूड पार्क एवं स्वतंत्र मंडी स्थापित करने, पूगल में गौण मंडी बनाने, राजस्थान पशु विज्ञान एवं पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय में डेयरी विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी महाविद्यालय की स्थापना, राव बीकाजी टेकरी को सुरक्षित एवं संरक्षित करने, आयुर्वेद महाविद्यालय स्थापित करने, पीबीएम अस्पताल में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट सहित सड़क, पेयजल और शिक्षा सुदृढ़ीकरण से जुड़े बिन्दुओं की समीक्षा की गई।
स्वच्छ भारत मिशन से संबंधित बैठक आयोजित
स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण से संबंधित बैठक सोमवार को जिला कलक्टर नमित मेहता की अध्यक्षता में आयोजित हुई। इस दौरान स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत जिला एवं ब्लॉक स्तर पर संविदा आधार पर कार्मिकों की अनुबंध अवधि निर्धारित नियमों के अनुरूप करने का अनुमोदन किया गया। उन्होंने एसएलआरएम के कार्यों की पंचायत समिति वार समीक्षा की और प्रगति जानी। उन्होंने बताया कि डीपीआर के तहत सार्वजनिक कचरा पात्र, सामुदायिक खाद नैडेप, मैजिक पिट, नाली निर्माण और आरआरसी के 30 हजार 385 कार्य करवाए जाने प्रस्तावित हैं। इनमें से 19 हजार 262 कार्यों की स्वीकृतियां जारी कर दी गई हैं। इनमें से 14 हजार 783 कार्य प्रारम्भ कर दिए हैं। वहीं 11 हजार 690 काम पूर्ण हो चुके हैं। उन्होंने इन कार्यों में और अधिक गति लाने के निर्देश दिए।
बैठक में जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ओमप्रकाश, नगर विकास न्यास सचिव नरेन्द्र सिंह पुरोहित, अतिरिक्त कलक्टर प्रशासन बलदेव राम धोजक, महिला एवं बाल विकास विभाग की उपनिदेशक शारदा चौधरी, जिला रसद अधिकारी यशवंत भाकर, पीबीएम अधीक्षक डॉ. परमिन्द्र सिरोही, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. ओ. पी. चाहर सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।
  • Powered by / Sponsored by :