भूपेन्द्र पटेल बने गुजरात के नए मुख्यमंत्री, 17वें मुख्यमंत्री के तौर पर ली शपथ

भूपेन्द्र पटेल बने गुजरात के नए मुख्यमंत्री, 17वें मुख्यमंत्री के तौर पर ली शपथ

गांधीनगर: भूपेन्द्र पटेल गुजरात के नए मुख्यमंत्री बने उन्होंने गांधीनगर राजभवन में 17वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ग्रहण ली | भूपेंद्र पटेल ने गुजराती भाषा में शपथ ग्रहण ली | शपथ ग्रहण के दौरान उनके साथ गृहमंत्री अमित शाह सहित 5 राज्यों मध्य प्रदेश, कर्नाटक, गोवा और असम, हरियाणा के मुख्यमंत्री शामिल थे | राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने पटेल को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। शपथ ग्रहण समारोह में गृहमंत्री अमित शाह, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर मौजूद रहे।

इससे पहले नए मुख्यमंत्री के लिए जिन नामों पर चर्चा हो रही थी उनमे भूपेन्द्र पटेल का नाम नहीं था और रविवार को भाजपा विधायक दल की बैठक में सर्वसम्मति से भूपेन्द्र पटेल को नेता चुन लिया गया ।

पटेल इससे पहले राज्य सरकार में मंत्री भी नहीं रहे, जिस तरह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 20 साल पहले गुजरात का मुख्यमंत्री बनने से पहले कभी मंत्री नहीं रहे थे। पीएम मोदी को सात अक्टूबर, 2001 मुख्यमंत्री के रूप में शपथ दिलाई गयी थी और वह राजकोट विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में जीत हासिल कर 24 फरवरी, 2002 को विधायक चुने गये थे।


भूपेन्द्र पटेल वर्ष 2010 से 2017 तक के पहले पांच वर्षों में अहमदाबाद नगर निगम की स्थायी समिति और 2 साल अहमदाबाद अर्बन डिवेलपमेंट अथॉरिटी के अध्यक्ष रह चुके है उन्होंने अहमदाबाद में निगम ने कई विकास कार्य किये है । और 2017 में पहली बार घाटलोडिया सीट से विधानसभा चुनाव लादे और और जीते थे । उन्होंने कांग्रेस के शशिकांत पटेल को एक लाख से अधिक वोटों से हराया था, जो उस चुनाव में जीत का सबसे बड़ा अंतर था।

भूपेन्द्र पटेल ने सिविल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा किया हुआ है और उनके समर्थक उन्हें ‘दादा’ के नाम से बुलाते है | भूपेन्द्र पटेल को गुजरात की पूर्व मुख्यमंत्री और अब उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का करीबी माना जाता है।
  • Powered by / Sponsored by :