रीट परीक्षा में फर्जी परीक्षार्थी व सहयोगियो को किया गिरफतार

रीट परीक्षा में फर्जी परीक्षार्थी व सहयोगियो को किया गिरफतार

भीलवाड़ा 26 सितम्बर। जिले की थाना गंगापुर पुलिस ने रविवार को आयोजित रीट परीक्षा में परीक्षा देने आए फर्जी परीक्षार्थी व उसके दो सहयोगियों को गिरफ्तर किया है। जिनसे पूछताछ के बाद ओर भी वारदाते खुलने की संभावना है। गिरफ्तार आरोपी अशोक सुथार पुत्र नगजी राम (27), देवा राम सुथार पुत्र रीडमल राम (26) एवं साल निवासी धमाणा तहसील एवं किशन सिंह पुत्र जवान सिह राजपुत (22) जालोर में थाना सांचौर क्षेत्र के रहने वाले है। मुलजिम अषोक सुथार पूर्व में भी इस तरह की वारदातो में लिप्त होकर गिरफतार हो चुका है।
भीलवाड़ा एसपी विकास शर्मा ने बताया कि रविवार को मुखबिर से सूचना मिली कि सहाड़ा स्थित राजकीय विद्यालय में आयोजत रीट परीक्षा की द्धितीय पारी में किशन सिंह राजपूत के स्थान पर कोई अन्य व्यक्ति परीक्षा में समिलित होने आयेगा। सूचना पर गंगापुर थानाधिकारी भजन लाल मय जाप्ता मौके पर पहुंचे। जहां भागे भागे आ रहे दो सन्दिग्ध युवकों को रोक पूछा तो एक ने अपना नाम किशन सिंह व दुसरे ने देवाराम बताया। किशन सिंह को प्रवेश पत्र व पहचान पत्र दिखाने को कहा तो वह घबरा गया
कडाई से पूछताछ करने पर किशन सिंह ने अपना सही नाम अशोक सुथार बताया। परीक्षार्थी किशन सिंह के स्थान पर अशोक सुथार परीक्षा देने आया था। जिसका सहयोग करने देवा राम आया ।
दौराने पूछताछ पर देवाराम की प्रथम पारी की परीक्षा भी अषोक सुथार द्धारा ही आदर्श विद्या मंदिर सेकण्डरी स्कुल कोटडी में देना बताया है। जिस पर उक्त विद्यार्थीयो के पास मिले पहचान पत्र , दस्तावेज को जप्त किया गया। अशोक सुथार ने किशन सिंह के एडमिट कार्ड पर अपना फोटो लगा कर उस का पहचान पत्र लेकर परीक्षा देने आया। इसके लिए 8 लाख में सौदा हुआ था ।
  • Powered by / Sponsored by :