मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में निःशुल्क उपचार के साथ हीं अब दुर्घटना बीमा भी शामिल

मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में निःशुल्क उपचार के साथ हीं अब दुर्घटना बीमा भी शामिल

भीलवाडा, 06 मई। मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में बीमित परिवारों के लिए राज्य सरकार की ओर से एक मई से मुख्यमंत्री चिरंजीवी दुर्घटना बीमा योजना शुरू की गई, इसमें वे सभी पारिवारिक सदस्य पात्र लाभार्थी होगें जो चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में पंजीकृत हो चुके है या जो 7 मई, 2022 से पहले पंजीकरण करवा लेते है, तो जिलेवासियों को शत-प्रतिशत मई माह से हीं 10 लाख रूपए तक का निशुल्क ईलाज और 5 लाख रूपए का दुर्घटना बीमा कवर मिलना शुरू हो जाएगा। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के प्रारंभ होने से अब तक 30 हजार 707 परिवारों को लाभान्वित किया जा चुका है, जिनका 35 करोड, 14 लाख, 24 हजार 916 रूपये जैब खर्च होने से योजना ने उनका खर्चा बचाया।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ मुस्ताक खान ने यह जानकारी देते हुए बताया कि मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना में बीमित परिवार के सदस्य अथवा सदस्यों की दुर्घटना में मृत्यु होने अथवा दुर्घटना के कारण हाथ, पैर, ऑंख की स्थाई पूर्ण क्षति होने पर 5 लाख रूपए तक का क्लेम मिल सकेगा। योजना के तहत बीमित परिवार के सदस्य की सडक दुर्घटना में, छत से गिरने के कारण, मकान के ढहने से, डूबने से, रासायनिक द्रव्यों के छिडकाव के कारण, बिजली के झटके तथा जलने से होने वाली मृत्यु/क्षति पर योजना का लाभ देय होगा। योजना का संचालन राज्य बीमा एवं प्रावधायी निधि विभाग के माध्यम से किया जायेगा। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना के तहत बीमित परिवार के सदस्य की मृत्यु हो जाने पर 5 लाख रूपये और दुर्घटना में हाथ, पैर या आंख जैसे दो अंग की पूर्ण क्षति पर 3 लाख रूपये तथा दुर्घटना में हाथ, पैर या आंख जैसे एक अंग की पूर्ण क्षति पर 1.5 लाख रूपये का दुर्घटना बीमा दिया जायेगा। उन्होंने बताया कि जिले के वंचित परिवार अपना पंजीकरण करा योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है, पंजीकरण के लिए ई-मित्र अथवा स्वयं की एसएसओ आईडी से पंजीकरण करवा सकते है। लाभार्थी के पास जन आधार कार्ड या जन आधार नम्बर या रसीद नम्बर होना आवश्यक है।
जिला कार्यक्रम समन्वयक, तुषार भटनागर ने बताया कि जिले में 7 लाख, 32 हजार 71 जन आधार परिवारों में से 71.16 प्रतिशत अर्थात 5 लाख, 20 हजार 913 परिवार चिरंजीवी योजना में जुड चुके है। इसमें 3 लाख, 98 हजार 394 खाद्य सुरक्षा व एसईसीसी परिवार, 86 हजार 429 लघु सीमांत परिवार, 2 हजार 507 संविदाकर्मी तथा 5 हजार 907 कोविड मृतक परिवार आदि शामिल है साथ हीं 27 हजार 676 ऐसे जागरूक परिवार है, जिन्होंने 850 रूपये की राशि का प्रीमियम जमा करा योजना में शामिल हुये है। इन परिवारों को एक मई से योजना का लाभ मिलना शुरू हो गया है।
मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में शामिल जिले के निजी अस्पतालः- योजना के तहत जिले के 13 निजी अस्पतालों को जोडा गया है, जिसमें केशर बाई सोनी हॉस्पीटल, मेवाड हॉस्पीटल, केशव पोरवाल हॉस्पीटल, मालू हॉस्पीटल, ब्रजेश बांगड हॉस्पीटल, स्वास्तिक हॉस्पीटल, इसिता शर्मा ऑर्थोपेडिक हॉस्पीटल, रामस्नेही हॉस्पीटल, कृष्णा हॉस्पीटल, श्री सिद्वि विनायक हॉस्पीटल, अरिहन्त हॉस्पीटल, लाईफ लाईन हॉस्पीटल तथा देव ईएनटी हॉस्पीटल को शामिल किया गया है। जिलेवासी इन निजी चिकित्सालयों में जाकर मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ उठा सकते है।
  • Powered by / Sponsored by :