पत्नी की हत्या कर कब्रिस्तान में दफना दिया, पिता की रिपोर्ट पर पुलिस ने कब्र से शव निकालकर जांच की तो मामला हत्या का निकला, आरोपित पति गिरफ्तार

पत्नी की हत्या कर कब्रिस्तान में दफना दिया, पिता की रिपोर्ट पर पुलिस ने कब्र से शव निकालकर जांच की तो मामला हत्या का निकला, आरोपित पति गिरफ्तार

भीलवाड़ा 18 दिसंबर। गुलाबपुरा थाना पुलिस ने हत्या के मामले का खुलासा कर आरोपित पति पंजाब के पटियाला निवासी गौरु उर्फ अनवर पुत्र बाबू खान मेरासी (26) को पंजाब से गिरफ्तार कर लिया। ससुराल में रह रही पत्नी को पीर बाबा की धोक दिलाने के बहाने घर से ताऊ के घर ले जाकर रात को जंगल मे उसकी निर्मम हत्या कर कब्रिस्तान में दफना दिया था।
भीलवाड़ा एसपी आदर्श सिधु ने बताया कि भदालीखेड़ा थाना माँडल निवासी लाला मेरासी ने 11 दिसंबर को गुलाबपुरा थाने में एक रिपोर्ट दी जिसमें बताया कि 9 दिसंबर के दिन उसका दामाद गौरु भदालीखेड़ा आया और कमालपुरा पीर बाबा जी के धोक देने की कह पत्नी सकीना को साथ ले गया। रात को 8 बजे बेटी से बात हुई तो उसने गुलाबपुरा आना बताया था। 10 दिसंबर की सुबह उसे सूचना मिली कि उसकी बेटी सकीना की मौत हो गई है। सूचना पर वह अपनी पत्नी के साथ गुलाबपुरा आया,उसकी बेटी मृत अवस्था में थी। बाद में बेटी के ससुराल वालों ने उसको कब्रिस्तान में दफना दिया।
पिता द्वारा बेटी की हत्या किए जाने की रिपोर्ट देने पर मुकदमा दर्ज कर सीओ गुलाबपुरा लोकेश मीणा के नेतृत्व व थानाधिकारी गुलाबपुरा सतीश मीणा के नेतृत्व में टीम गठित की गई। गठित टीम द्वारा एसडीएम गुलाबपुरा से स्वीकृति प्राप्त कर लाश को कब्र से बाहर निकलवाया। शव का निरीक्षण करने पर हत्या के अंदेशे पर मेडिकल बोर्ड से लाश का पोस्टमार्टम करवाया गया। इस दौरान खुफिया तौर से आसूचना संकलन व तकनीकी सहायता से अभियुक्त गोरु उर्फ अनवर को पटियाला से डिटेन किया। जिसने हत्या करना स्वीकार किया है।
एसपी सिधु ने बताया कि पूछताछ की गई तो आरोपी ने बताया ससुराल में रहने के दौरान उसने अपनी पत्नी सकीना को किसी और के साथ अवैध संबंध बनाते देख लिया था। जिस पर उनका झगड़ा हो गया। तभी से उसने सबक सिखाने की सोच ली थी। घटना के दिन पीर बाबा के धोक दिलाने के बहाने 29 मील चौराया पर समाज के ताऊ के लड़के के घर ले गया। रात करीब 4 बजे के आसपास शौच के बहाने सकीना को पास के जंगल में ले गया और वहां गले में चुन्नी डालकर गला दबाया व उसकी चोटी पकड़ छोटे पिलर पर सिर को तब तक मारा जब तक उसकी सांस बंद ना हो गई। उसी हालत में पटक कर दूसरे रास्ते वापस आकर सो गया। दूसरे दिन ताऊ के भाइयों के परिवार को पता लगने पर रोने का नाटक करने लग गया।
  • Powered by / Sponsored by :