हिगोंनिया गौ पुनर्वास केन्द्र का किया निरीक्षण

हिगोंनिया गौ पुनर्वास केन्द्र का किया निरीक्षण

जयपुर, 04 अगस्त। अतिरिक्त जिला कलक्टर (उत्तर) श्री बीरबल सिंह ने गुरूवार को हिंगोनिया गौ पुनर्वास केन्द्र का निरीक्षण किया। उन्होंने बताया कि हिगोंनिया गौ पुनर्वास केन्द्र पर पर 80 गौवंश लम्पी स्किन बीमारी से संक्रमित थे जिनमें से उपचार के बाद 30 पशु स्वस्थ हो गये तथा 50 पशुओं का ईलाज जारी है। हिगोंनिया परिसर में नियमित रूप से साफ-सफाई की जा रही है। उन्होंने पशु पालन विभाग के अधिकारियों को लम्पी स्किन बीमारी के संबंध में जारी की गई गाइडलाइन का प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिये।
अतिरिक्त जिला कलक्टर (उत्तर) श्री बीरबल सिंह ने बताया कि जिले की 168 गौषालाओं का प्रतिदिन सघन निरीक्षण एवं पर्यवेक्षण नोडल अधिकारी एवं संस्थान प्रभारियों द्वारा किया जायेगा।
कन्ट्रोल रूम की स्थापना
अतिरिक्त जिला कलक्टर ने बताया कि गौवंश में फैल रही लम्पी स्किन बीमारी के बारे में सूचना देने के लिये जिला स्तरीय कन्ट्रोल रूम बहु उद्देशीय पशु चिकित्सा पांच बत्ती में स्थापित किया गया है। जिसका दूरभाष नम्बर 0141-2373237 रहेगा।
अतिरिक्त जिला कलक्टर ने बताया कि पशुपालन विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के अवकाष पर रोक लगा दी गई है। जिले की समस्त संस्थाओं में पर्याप्त मात्रा में दवा उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि संक्रमित पशु को स्वस्थ पशु से अलग करने एवं संक्रमित पशु उपचार करने के लिये निर्देश प्रदान कर दिये गये है।
निरीक्षण के दौरान पशु पालन विभाग के अतिरिक्त निदेशक डॉ0 उम्मेद सिंह सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।
  • Powered by / Sponsored by :