परमिट जारी करने हेतु वाहन स्वामियों से आवेदन पत्र आमंत्रित

परमिट जारी करने हेतु वाहन स्वामियों से आवेदन पत्र आमंत्रित

उदयपुर, 11 जून/अनुसूचित क्षेत्र में लोक परिवहन सेवा को मजबूत करने एवं ग्रामीण क्षेत्रों के मार्गों में न्यूनतम टैक्स में बेहतर सेवा उपलब्ध कराने की दृष्टि से परिवहन विभाग ने वृहद् स्तर पर कार्य प्रारम्भ किया है।
प्रादेशिक परिवहन अधिकारी डॉ. मन्ना लाल रावत ने बताया कि उदयपुर में विभिन्न श्रेणियों के 1428, डूंगरपुर में 278, बांसवाड़ा में 445 एवं राजसमंद में 295 मार्ग राज्य सरकार द्वारा खोले गये हैं, जिन पर विधिवत् परमिट जारी करने हेतु वाहन स्वामियों से आवेदन पत्र आमंत्रित किये गये हैं।
नये मार्ग खोलने के प्रस्ताव राज्य सरकार को प्रेषित
उन्होंने बताया कि यह संज्ञान में आया है कि विगत वर्षों में अनुसूचित क्षेत्रों में नई सड़कों का तो व्यापक रूप से विस्तार हुआ है किंतु सुदूर आदिवासी अँचल के निवासियों को पर्याप्त, सस्ती, सुलभ और सुरक्षित सार्वजनिक परिवहन सेवायें उपलब्ध नहीं हैं या आवश्यकता से कम है। इसी को ध्यान में रखते हुए परिवहन क्षेत्र के उदयपुर, बांसवाड़ा, डूंगरपुर एवं राजसमंद की तहसीलों को केन्द्र में रखकर क्षेत्र में नवीन मार्ग खोले जाने की कार्यवाही त्वरित गति से की जा रही है। उन्होंने जानकारी दी कि अनुसूचित क्षेत्रों में विभिन्न श्रेणियों के नये मार्ग खोलने की कार्य योजना के तहत उदयपुर परिवहन क्षेत्र के उदयपुर जिले में 80, डूंगरपुर में 104, बांसवाड़ा में 60 एवं राजसमंद में 5 नये मार्ग खोलने के प्रस्ताव राज्य सरकार को भिजवाये गये हैं।
आमजन को मिलेगी सस्ती, सुलभ और सुरक्षित परिवहन सेवा
डॉ. रावत ने जानकारी दी कि नवीन मार्ग खुल जाने की स्वीकृति मिलने के बाद तहसील मुख्यालयों को विशेष रूप से 10 से 20 कि.मी. की दूरी वाले राजस्व ग्रामों एवं कस्बों में 8 से 25 बैठक क्षमता वाले वाहन यथा-ओमनी बस, टाटा मैजिक, क्रूज़र, इनोवा इत्यादि श्रेणी के यानों को मंजिली वाहन श्रेणी मानते हुए अधिक से अधिक परमिट दिये जा सकेंगे। इस श्रेणी के वाहनों को मंजिली यान के परमिट मिल जाने से इन मार्गों पर ऑवर क्राउडिंग पर नियंत्रण होगा साथ ही आम जन को सार्वजनिक परिवहन सेवा तुलनात्मक रूप से और भी सस्ती, सुलभ और सुरक्षित उपलब्ध हो सकेगी।
  • Powered by / Sponsored by :