मादड़ी में कलक्टर की चौपाल, 50 से अधिक परिवेदनाओं पर कलक्टर ने दिए निर्देश

मादड़ी में कलक्टर की चौपाल, 50 से अधिक परिवेदनाओं पर कलक्टर ने दिए निर्देश

उदयपुर, 13 सितम्बर/जनसमस्याओं के मौके पर ही त्वरित निस्तारण के उद्देश्य से जिले में आयोजित हो रही जिला कलक्टर श्रीमती आनंदी की चौपालों की श्रृंखला में शुक्रवार को झाड़ोल उपखण्ड क्षेत्र की माद़ड़ी ग्राम पंचायत में चौपाल का आयोजन किया गया। चौपाल में झाड़ौल उपखण्ड अधिकारी पर्बतसिंह चुण्डावत, जिला परिषद के अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी मेघराज मीणा, तहसीलदार, विकास अधिकारी सहित समस्त संबंधित विभागों के जिलाधिकारियों की मौजूदगी में 50 से अधिक परिवेदनाओं पर कलक्टर ने संबंधित विभागीय अधिकारियों से जानकारी लेकर समाधान के निर्देश दिए।
चौपाल में आई बिजली, पेयजल संबंधित समस्याएं:
चौपाल में कलक्टर ने ग्रामीणों से संवाद किया और उनको मिली सरकारी योजनाओं व कार्यक्रमों में मिले लाभ की पुष्टि की। जनसंवाद दौरान ग्रामीणों ने कलक्टर को क्षेत्र में बिजली की अनियमित आपूर्ति, सोलर लाईट प्राप्त नहीं होने, बिजली कनेक्शन में ठेकेदार द्वारा राशि लिए जाने तथा बिजली के पोल स्वयं उपभोक्ताओं के स्तर पर लाने की शिकायत की। कलक्टर ने इस स्थिति पर नाराजगी जताई और विभागीय अभियंताओं से जानकारी लेकर संबंधित के विरूद्ध कार्यवाही के निर्देश दिए। कलक्टर ने ग्रामीणों से आह्वान किया कि किसी भी स्थिति में ठेकेदार या उनके व्यक्तियों को बिजली कनेक्शन के लिए किसी प्रकार की राशि नहीं दें और यदि किसी प्रकार की मांग करें तो इसकी शिकायत करें। चौपाल में ग्रामीणों ने पेयजलापूर्ति के अभाव को बताया तो विभागीय अधिकारियों से जानकारी लेने पर इस संबंध में जनता जल योजना में प्रस्ताव भिजवाएं जाने के बारे में बताया। ग्रामीणों ने भीमसागर डेम के लीकेज होने की जानकारी देते हुए इसकी मरम्मत और एक नया डेम बनाने की मांग रखी, जिस पर कलक्टर ने विभागीय अधिकारियों को कार्यवाही के निर्देश दिए। क्षेत्र में क्षतिग्रस्त सड़कों की मरम्मत और नवीन सड़क निर्माण की मांग पर कलक्टर ने मिसिंग लिंक योजना में प्रस्ताव तैयार कर भेजने के निर्देश दिए। ग्रामीणों ने खाद्य सुरक्षा योजना के तहत नवीन राशन कार्डों के निर्माण तथा पालड़ी बड़ोदिया को नवीन राजस्व ग्राम बनाने की मांग की जिस पर कलक्टर ने संबंधित विभागीय अधिकारियों को कार्यवाही करने को कहा। कलक्टर ने विभागीय योजनाओं के लाभार्थियों से संवाद भी किया। कुछेक प्रकरणों में जहां लाभार्थियों ने योजना के तहत लाभ नहीं मिलने की जानकारी दी तो कलक्टर ने संबंधित विभागीय अधिकारियों को तलब किया तथा तथ्यात्मक जानकारी लेते हुए लाभांवित करने के निर्देश दिए।
विभागीय योजनाओं की समीक्षा:
चौपाल में कलक्टर ने एवीवीएनएल, लोक निर्माण विभाग, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी, रसद, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, ग्रामीण विकास व पंचायती राज, राजस्व, महिला एवं बाल विकास, पशुपालन तथा अन्य समस्त संबंधित विभागीय अधिकारियों से ग्राम पंचायत क्षेत्र में संचालित विभागीय योजनाओं के क्रियान्वयन के बारे में प्रगति की जानकारी ली। उन्होंने विभागीय अधिकारियों के माध्यम से ग्रामीणों को योजनाओं के प्रावधानों के बारे में भी बताया तथा इन योजनाओं का लाभ उठाने का आह्वान किया।
  • Powered by / Sponsored by :