राउमावि सुआवतों का गुड़ा की बालिकाओं से रूबरू हुई कलक्टर

राउमावि सुआवतों का गुड़ा की बालिकाओं से रूबरू हुई कलक्टर

उदयपुर, 09 जुलाई/जिला कलक्टर श्रीमती आनंदी की अनूठी पहल पर जिले में बालिका स्वास्थ्य एवं शिक्षा के लिए महत्वाकांशी चुप्पी तोडो- खुलकर बात करो अभियान का दूसरा दिन सायरा ब्लॉक के सुआवतों का गुड़ा स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्य़ालय की बालिकाओं के लिए किसी उत्सव से कम नहीं रहा। मौका था जिला कलक्टर श्रीमती आनंदी का बालिकाओं के बीच होना और उनसे अभियान को लेकर खुलकर बात करना व बालिकाओं को जागरूक होकर समाज को जागरूक करने के लिए प्रेरित करना। इस अवसर पर स्थानीय सरपंच सुन्दर गमेती, उपखण्ड अधिकारी जितेन्द्र पाण्डे, सायरा के विकास अधिकारी भंवर सिंह चारण, स्थानीय प्रधानाचार्या श्रीमती गुणमाला रायकवाल, अभियान के सायरा ब्लॉक कोर्डिनेटर रवि सेन सहित अन्य विभागीय अधिकारी, कार्मिक एवं स्थानीय लोग मौजूद थे।
मंगलवार को जिला कलक्टर गोगुन्दा-सायरा के दौरे पर रहीं जहां उन्होंने विभिन्न राजकीय कार्यालयों एवं संस्थानों का अवलोकन किया। इस दौरान जब वे राउमावि सुआवतों का गुड़ा पहुंची तो वहां बड़ी संख्या में मौजूद बालिकाओं के साथ स्थानीय महिलाओं ने कलक्टर का स्वागत किया।
कलक्टर ने अभियान को लेकर बालिकाओं एवं ग्रामीण महिलाओं से चर्चा की और उन्हें इस बारे में खुलकर बात करने एवं अपने क्षेत्र की अभियान की जागरूकता को लेकर महिलाओं को अहम भूमिका निभाने का आह्वान किया। इस अवसर पर प्रधानाचार्य श्रीमती गुणमाला रायकवाल ने विद्यालय की उपलब्धियों के साथ संचालित गतिविधियों के बारे में कलक्टर को अवगत कराया। श्रीमती रायकवाल ने कहा कि इस अभियान की सार्थकता के लिए स्थानीय विद्यालय की बालिकाओं की ओर से पूर्ण सहभागिता निभाई जाएगी। एवं घर-घर जाकर लोगों को जागरूक किया जाएगा।
इस दौरान पेसिफिक मेडिकल कॉलेज के इन्टर्न ने बालिकाओं की स्वास्थ्य जांच की। साथ ही उपस्थित बालिकाओं को अभियान पर आधारित जागरूकता फिल्म भी दिखाई गई। इस दौरान कलक्टर ने शिक्षकों को पाबन्द किया कि जो छात्राएं स्वास्थ्य जांच में एनिमिक पाई गई है, उन्हे स्वयं अपनी निगरानी में नियमित रूप से चिकित्सा विभाग द्वारा दी गई आयरन की गोलियां दी जाए। इसी प्रकार महिला एवं बाल विकास विभाग के सहयोग से मेरा शरीर-मेरी बात एवं किशोरियों हेतु माहवारी स्वच्छता पर जागरूकता संबंधी पुस्तिका भी वितरित की गई ।
पदराड़ा चिकित्सालय की देखी व्यवस्थाएं
जिला कलक्टर ने अपने दौरे के दौरान पदराड़ा स्थित राजकीय चिकित्सालय की व्यवस्थाओं का अवलोकन किया। ममता कार्ड की एन्ट्री अधूरी होने पर नाराजगी जताई। उन्होंने एएनएम व आशा सहयोगिनियों, गर्भवती एवं धात्री महिलाओं को चिकित्सालय तक लाने एवं उन्हें नियमानुसार स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। बाद में गोगुन्दा ब्लॉक मुख्यालय पर ब्लॉक की सभी एएनएम, आशा सहयोगिनियों, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं चिकित्साधिकारियों के साथ बैठक कर हाई रिस्क प्रेगनेन्सी एवं कम हिमोग्लोबिन वाली महिलाओं पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए।
उपखण्ड अधिकारी कार्यालय का निरीक्षण कर लक्ष्य के अनुरूप कार्य करने एवं लम्बित राजस्व प्रकरणों का समयबद्ध निस्तारण करने को कहा। दौरे के दौरान लोगों ने अपने परिवाद भी जिला कलक्टर को प्रस्तुत किए जिनके उचित निस्तारण के निर्देश उन्होंने संबंधित अधिकारियों को दिए। इस दौरान उपखण्ड अधिकारी जितेन्द्र पाण्डे सहित अन्य ब्लॉक स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।
यहां हुए आयोजन
अभियान की नोडल अधिकारी ज्योती ककवानी ने बताया कि अभियान के दूसरे दिन कोटडा के गोगरूद, पालचा एवं पीपली खेडा के विद्यालयो में कुल 158 छात्राओ ने भाग लिया एवं सायरा के पानरियो की भागल, नरो का गुडा, सुआवतो का गुडा में कुल 137 छात्राओ, झाडोल मे दाडमीया, पीलख, ओगणा में कुल 212 छात्राओ, तथा फलासिया में प्राथमिक व माध्यमिक विद्यालय कोल्यारी, ढाला में कुल 291 छात्राओ ने भाग लिया। यहां माहवारी स्वच्छता पर इन्सानियत हेल्थ केयर सोसायटी, आरएनटी, गीतांजली एवं पेसेफिक मेडिकल कॉलेज के मेडीकल इन्टर्न डॉ. आयुष जैन एवं पुजा एलाइन ने झाडोल में, डॉ. चिन्मय डांगी व चेष्ठा सोनी फलासिया में, डॉ. मानवेन्द्र अहाड़ा व देवांश साहा ने सायरा में तथा डॉ. पवन कुमार शर्मा व प्रियल सुहालका ने कोटड़ा में बालिकाओ को फिल्म के माध्यम से जानकारी दी। माहवारी स्वच्छता कार्यक्रम के साथ ही प्रत्येक विद्यालय में चिकित्सा विभाग की टीम द्वारा छात्राओ की स्वास्थ्य जांच भी की गई ।
इसी क्रम में बुधवार को कोटडा के झालरा, पीपरमाल, डांग, फलासिया के खेराड, आमीवाडा, आमोड झाडोल के बदराणा,मो.फलासिया, सायरा के पालीदाना, उमरोड, पुनावली में कार्यक्रम आयोजित होंगे ।
  • Powered by / Sponsored by :