नारायण सेवा संस्थान ने की हजारों गरीबों की मदद

नारायण सेवा संस्थान ने की हजारों गरीबों की मदद

उदयपुर,16अप्रेल। सर्वे भवन्तु सुखिनः का मंत्र लिये 4 दशक पहले सेदीन दुःखी दिव्यांगों के क्षेत्र में समर्पित नारायण सेवा संस्थान ने कोरोना महामारी के प्रथम चरण लॉकडाउन में गरीब, मजदूर परिवारों को भोजन और राशन की मदद पहुंचाते हुए मानव धर्म को ओर मजबूत किया है ।
पद्मश्री अलंकृत संस्थान के संस्थापक कैलाश मानव ने कहा कि सम्पूर्ण मानव जाति पर आये संकट की इस घड़ी में हमें हर गरीब-जरूरतमंद को मदद पहुँचा कर बचाना है । गरीबों की सेवा ही सबसे बड़ा धर्म और कर्म है ।
संस्थान अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल ने बताया कि संस्थान ने पिछले 21 दिनों में 45 हजार से ज्यादा भोजन पैकेट,24500 फेस मास्क का निःशुल्क वितरण किया । विभिन्न गांवों में जाकर 950 मजदूर परिवारों को राशन सामग्री किट दिए गए । दिव्यांग स्वरोजगार सिलाई प्रशिक्षण केंद्र के दिव्यांग प्रशिक्षणार्थी कोरोना उपचार में लगी मेडिकल टीम के लिये अब तक 60 व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण PPE किट बना चुके हैं । संस्थान के अग्निशमन वाहन ने शहर के 6 वार्डों का सेनेटाइजेशन किया । एम्बुलेंस गर्भवती महिलाओं एवं गरीब रोगीयों को अस्पताल पहुचाने एवं पुनः उन्हें घर छोड़ने की भी सेवा कर रही है ।
  • Powered by / Sponsored by :