भ्रूण लिंग परीक्षण में लिप्त दो आरोपी किया गिरफ्तार

भ्रूण लिंग परीक्षण में लिप्त दो आरोपी किया गिरफ्तार

जयपुर, 5 फरवरी। राजस्थान पीसीपीएनडीटी टीम ने मंगलवार को करौली जिले के गंगापुरसिटी में डिकॉय कार्रवाई करते हुए भ्रूण लिंग जांच मामले में लिप्त सपोटरा, करौली के खिरखिड़ा निवासी 27 वर्षीय पिन्टू मीणा पुत्र बसंती लाल मीणा एवं करौली के नांगल सुल्तानपुर निवासी 24 वर्षीय अजय मीणा पुत्र गोल्याराम मीणा को गिरफ्तार किया है। साथ ही डिकाय राशि के हू-ब-हू नम्बरी नोट भी बरामद कर लिये हैं।
अध्यक्ष राज्य समुचित प्राधिकारी पीसीपीएनडीटी एवं मिशन निदेशक एनएचएम श्री डॉ. समित शर्मा ने बताया कि मुखबिर के जरिए टीम को सूचना मिली। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पीसीपीएनडीटी श्रीमती शिल्पा चौधरी के नेतृत्व में गठित टीम द्वारा मामले की पुष्टि की गयी। सूचना के पुष्टिकरण में पता चला कि दलाल करौली जिले एवं आसपास की गर्भवती महिलाओं की भ्रूण लिंग जांच करवाने के गैरकानूनी कार्य में लिप्त हैं। टीम ने लगातार निगरानी करते हुए मुखबिर के जरिए दलाल अजय मीणा से सम्पर्क साधा ।
मिशन निदेशक ने बताया कि दलाल ने भ्रूण लिंग जांच की एवज में 70 हजार रुपये की राशि की मांग की और गंगापुर सिटी के प्राईवेट बस स्डैंड पर डिकाय गर्भवती महिला बुलाया। वहीं दलाल अजय मीणा ने अपने सहयोगी पिंटू मीणा को भी बुला लिया। वहां से दोनों आरोपी डिकाय गर्भवती महिला को कमला हास्पिटल एंड सोनोग्राफी सेंटर ले गये। वहां डिकाय गर्भवती महिला की सामान्य सोनोग्राफी करवायी एवं बाहर आकर मनगढंत रूप से भ्रूण लिंग के बारे में सूचना दी। इशारा मिलते ही पीबीआई टीम ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया एवं हू-ब-हू नम्बरी नोट भी बरामद कर लिये। सोनोग्राफी केन्द्र के चिकित्सक की संलिप्तता के बारे में जांच की जा रही है। साथ ही आरोपियों से भी उनके गिरोह के बारे में सघन पूछताछ की जा रही है |
  • Powered by / Sponsored by :