विश्व पर्यावरण दिवस पर लार्ड कृष्णा पब्लिक स्कूल में विचार गोष्ठी का आयोजन

विश्व पर्यावरण दिवस पर लार्ड कृष्णा पब्लिक स्कूल में विचार गोष्ठी का आयोजन

आज दिनांक 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर खेडलीफाटक स्थित लार्डकृष्णा स्कूल में पर्यावरण संसद का आयोजन किया गया। दिव्यांग संस्था सक्षम एवं हरितमा ,लार्ड कृष्णा एजुकेशन सोसायटी एवं जल बिरादरी के संयुक्त तत्वाधान में चम्बल नदी में हो रहे प्रदूषण और पर्यावरण सरंक्षण पर एक विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य वक्ता हरितमा प्रदेश अध्यक्ष एवं सक्षम के प्रान्तीय मंत्री संजय शर्मा ने अपने उदबोधन में कहा कि आज से 15 वर्ष पूर्व चम्बल शुद्वीकरण के अभियान का शुभारम्भ हुआ था परिणाम स्वरूप चम्बल नदी में बहने वाले नालो के विषैले पानी को फिल्टर करने के लिए सीवरेज ट्रीटमेन्ट प्लान्ट का निर्माण करवानें के लिए 170 करोड का बजट पारित किया गया था। जियमें यूआईटी ने 3 सीवरजे ट्रीटमेन्ट प्लान्ट लगाये गये उसमें से केवल साजीदेहडा वाला ट्रीटमेन्ट प्लान्ट ही चल रहा है। बाकी बंद है। उन्होने कहा कि ये जहरीला पानी चम्बल को प्रदूषित कर रहा है।
सक्षम के प्रान्तीय अध्यक्ष डॉ. अरविन्द सक्सेना ने कहा कि कोटा सहित बडे सभी शहरो का तापमान 50 डिग्री तक होने लगा है जो चिंता का विषय है। इसलिए वृक्षारोपण का अभियान सरकार एवं समाज को साथ चलाना होगा ।
जल बिरादरी के प्रदेश उपाध्यक्ष बृजेष विजयवर्गीय ने कहा कि पॉलिथीन को अलविदा कहे और जल सरंक्षण पर ध्यान दे । इस अवसर पर पॉलिथीन का उपयोग न करने का संकल्प भी लिया गया। गोष्ठी उपरान्त सभी सामाजिक संगठनो के कार्यकर्ताओ ने भीमगंजमण्डी, खेडलीफाटक, रेल्वे कॉलोनी एवं सोगरिया क्षेत्र में पक्षियों के लिए परिन्धे बांधे एवं लोगो को उसमें नियमित जल डालने का संकल्प दिलवाया।
इस दौरान सक्षम के महानगर अध्यक्ष दीपक शर्मा ,एडवोकेट प्रान्तीय कोषाध्यक्ष जेपी शर्मा महानगर संयोजक नरेष मेवाडा और महिला प्रतिनिधि कुलदीप कौर और किरण सिन्हा सहित कई पदाधिकारी मौजूद रहे।
  • Powered by / Sponsored by :