मीडिया में बदलाव की गति तेज हुई - राजेन्द्र बोड़ा

मीडिया में बदलाव की गति तेज हुई - राजेन्द्र बोड़ा

जयपुर / वरिष्ठ पत्रकार राजेन्द्र बोड़ा ने कहा है कि एक समय में पत्रकारिता अथवा मीडिया में परिवर्तन की गति बहुत धीमी थी किंतु अब तेजी से बदलाव हो रहा है। अब अधिकांश लोगों के हाथों में मोबाइल है जिससें प्रत्येक गतिविधि की जानकारी तुरन्त हो जाती है। इसके साथ ही अब रीडर रिपोर्टर भी है । वह किसी भी घटना को अपने मोबाइल के माध्यम से लोगों तक पहुँचा देता है। अब ऑन लाइन अखबारों का जमाना है ई पेपर्स संस्करण शुरू हो गये है।
श्री बोड़ा सोमवार को पिंकसीटी प्रेस क्लब में पत्रकारिता एवं जनसंपर्क के शीर्ष पुरूष डा. मनोहर प्रभाकर की पुण्य तिथि पर आयोजित स्मृति व्याख्यान, मीडिया परिदृश्य कल आज और कल विषय पर बोल रहे थे । कार्यक्रम का आयोजन पब्लिक रिलेशन्स सोसायटी आल इण्डिया के जयपुर चेष्टर और पिंक सीटी प्रेस क्लब के संयुक्त तत्वावधान में किया गया ।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए प्रबुद्ध चिंतक एवं साहित्यकार डॉ. दुर्गाप्रसाद अग्रवाल ने कहा कि पहले पत्रकारिता साहित्य सें जुड़ी हुई थी, गरिमामय भाषा थी किन्तु अब बदलाव की हवा ने मीडिया की भाषा को ही बदल दिया है। संसाधनों की बढ़ती जरूरतों को ध्यान में रखकर ही मीडिया को अपना काम करना पड़ता है। कार्यक्रम के प्रारम्भ में पी.आर. एस.आई.के जयपुर चेष्टर के अध्यक्ष रविशंकर शर्मा ने अतिथियों और स्व. डॉ. प्रभाकर के परिवारजन का स्वागत किया। पिंक सीटी प्रेस क्लब के अध्यक्ष अभय जोशी ने कहा कि सरकार पत्रकारिता को चैथा पाया मानती है अतः इसी के अनुरूप मीडिया के लोगो के हितों का ध्यान रखना चाहिए जिससे वह अपनी जिम्मेदारी भंली प्रकार से निभा सकें।
कार्यक्रम का संयोजन पी.आर.एस.आई के सचिव देवी सिंह नरूका द्वारा किया गया । श्री नरूका ने डॉ. प्रभाकर के व्यक्तित्व और कृतित्व पर भी प्रकाश डाला । इस अवसर पर मुख्यमंत्री के विशेषाधिकारी फारूक आफरीदी सहित बड़ी संख्या में साहित्यकार, पत्रकार व अन्य लोग उपस्थित थे । डॉ. मनोहर प्रभाकर के परिवार की ओर से कार्यक्रम के मुख्य वक्ता और अध्यक्ष को उनकी पुस्तकों के सैट भी भेंट किये गये ।
इस अवसर पर पी.आर.एस.आई. के पूर्व अध्यक्ष डॉ. संजीव भानावत, कल्याण सिंह कोठारी, महेन्द्र जैन, साहित्यकार डॉ. नरेन्द्र शर्मा कुसुम, रंगकर्मी अशोक राही, सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग के पूर्व अतिरिक्त निदेशक गोपाल शर्मा प्रभाकर ने स्व. डॉ. प्रभाकर के बहुआयामी व्यक्तित्व और उनके सम्पर्क में रहने के संस्मरण सुनाये। प्रेस क्लब के सचिव मुकेश चैधरी ने सभी सहयोगियों को धन्यवाद दिया ।
  • Powered by / Sponsored by :