ऐतिहासिक बजट, राजस्थान का होगा तेजी से विकास सभी वर्गों के चहुंमुखी विकास वाला जनता का बजट - शिक्षा राज्य मंत्री

ऐतिहासिक बजट, राजस्थान का होगा तेजी से विकास सभी वर्गों के चहुंमुखी विकास वाला जनता का बजट - शिक्षा राज्य मंत्री

जयपुर, 10 जुलाई। शिक्षा राज्य मंत्री श्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा विधानसभा में बुधवार को प्रस्तुत राज्य के बजट को सभी वर्गों के चहुंमुखी विकास वाला बताते हुए इसे सही मायने में जनता का बजट बताया है । उन्होंने कहा कि यह ऐसा ऐतिहासिक बजट है जिससे राजस्थान का आने वाले समय में तेजी से विकास होगा ।
उन्होंने बजट में एक हजार करोड़ के कृषक कल्याण कोष की स्थापना, राज्य में मौहल्ले, गली में जनता क्लिनिक खोले जाने, गांधीजी की 150 वीं जयंती पर महात्मा गाँधी संस्थान की स्थापना और जयपुर में 50 करोड़ की लागत से गाँधी दर्शन म्यूजियम बनाए जाने, महिला सशक्तीकरण के लिए एक हजार करोड़ से प्रियदर्शिनी इंदिरा गाँधी महिला शक्ति निधि की स्थापना आदि की घोषणाओं को अभूतपूर्व बताया है।
श्री डोटासरा ने बुधवार को बजट पर जारी अपनी प्रतिक्रिया में राज्य के बजट में शिक्षा क्षेत्र में की गई घोषणाओं को भी बेहद महत्वपूर्ण बताते हुए इसके लिए मुख्यमंत्री श्री गहलोत का आभार जताया है। उन्होंने कहा कि शिक्षा क्षेत्र में जो घोषणाएं बजट में की गई है, उससे राजस्थान में शिक्षा का सुदृढ़ीकरण ही नहीं होगा बल्कि तेजी से विकास होगा। उन्होंने बजट में शिक्षा विभाग में 22 हजार पदों पर भर्ती के साथ ही प्रदेश में राजकीय विद्यालयों में चरणबद्ध रुप से आधारभूत संरचनाओं के निर्माण हेतु एक हजार 581 करोड़ रुपये खर्च कर सर्वपल्ली राधाकृष्णन विद्यालय सुदृढ़ीकरण योजना चलाए जाने का स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि इससे प्रदेश में विद्यालयी शिक्षा को नये आयाम मिलेंगे। शिक्षा मंत्री ने मुख्यमंत्री द्वारा बजट में प्रदेश की आवश्यकताओं के अनुरुप शिक्षा क्षेत्र में हो रहे नवीन प्रयोगों, विकास और नवाचारों आदि को ध्यान में रखकर बनायी जाने वाली नवीन शिक्षा नीति की घोषणा को भी बेहद महत्वपूर्ण बताया है।
उन्होंने कहा है कि इससे प्रदेश की शैक्षिक आवश्यकताओं के अनुरुप शिक्षा में आमूलचूल परिवर्तन कर प्रदेश को अग्रणी शिक्षा राज्य बनाया जा सकेगा। उन्होंने बजट में इस वित्तीय वर्ष में 50 नये प्राथमिक विद्यालय खोले जाने, 60 प्राथमिक विद्यालयों को उच्च प्राथमिक में, 100 उच्च प्राथमिक को माध्यमिक में तथा 500 माध्यमिक विद्यालयों को उच्च माध्यमिक में क्रमोन्नत किए जाने की घोषणा को भी महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि इससे प्रदेश में शिक्षा का तेजी से प्रसार होगा। उन्होने शाला दर्पण पोर्टल में शिक्षकों की सेवा संबंधित प्रकरणों के साथ ही स्थानान्तरण प्रार्थनाओं और परिवेदनाओं के लिए स्टाफ विण्डो और आम नागरिकों के सुझावों के लिए सिटीजन विण्डो प्रारंभ करने की घोषणा का स्वागत करते हुए कहा कि इससे शिक्षको-कार्मिकों को तो सुविधा मिलेगी ही, शिक्षा में प्रत्यक्षतः जनभागीदारी को भी सुनिश्चित किया जा सकेगा।
  • Powered by / Sponsored by :