गांवों के विकास से जुड़ी योजनाओं को गति दें अधिकारी - वर्मा

गांवों के विकास से जुड़ी योजनाओं को गति दें अधिकारी - वर्मा

चूरू, 20 जुलाई। जिला कलक्टर साँवर मल वर्मा ने कहा है कि अधिकारी गांवों के विकास से जुड़ी योजनाओं एवं विकास कार्यों पर विशेष ध्यान देकर सघन मॉनीटरिंग करें ताकि कार्य समय पर पूरे हों और सरकार की मंशा के मुताबिक ग्रामीणों को इसका लाभ मिले।
जिला कलक्टर मंगलवार को जिला कलक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक में विकास अधिकारियों एवं अन्य जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ ग्रामीण विकास से जुड़ी योजनाओं की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में सीईओ सत्त्तार खान, एसीईओ डॉ नरेंद्र चौधरी सहित अधिकारीगण मौजूद थे।
जिला कलक्टर ने कहा कि सांसद एवं विधायक निधि से जिन कार्यों की अनुशंषा हो चुकी हैं, उन्हें समस्त प्रक्रिया पूर्ण कर स्वीकृत करवाएं, स्वीकृत कार्य शुरू करें तथा अधूरे कार्य तत्काल पूर्ण करवाएं। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि बजट घोषणा, जन घोषणा पत्र तथा मुख्यमंत्री घोषणा से जुड़े कार्यों का नियमित रिव्यू होता है इसलिए इन कार्यों में किसी प्रकार की कोताही नहीं बरतें। उन्होंने कहा कि किसी भी माध्यम से प्राप्त शिकायतों का समयबद्ध निस्तारण सुनिश्चित करें तथा किये गए कार्य की समुचित रिपोर्टिंग सुनिश्चित करें। उन्होंने जिला रसद अधिकारी से कहा कि राज्य सरकार की महत्त्वाकांक्षी घर-घर औषधि योजना में पौधों का वितरण राशन डीलरों के माध्यम से होना है, इसलिए अभी से समुचित कार्य योजना बनाकर तैयारी सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि पंचायत समिति सहित समस्त विभाग पौधरोपण के निर्धारित लक्ष्यों को पूरा करें तथा यह भी देखें कि लगाए गए पौधों की देखभाल सुनिश्चित हो।
जिला कलक्टर ने महानरेगा की समीक्षा करते हुए कहा कि लोगों को आवश्यकता के अनुसार रोजगार मिले, इसके लिए आवश्यकता अनुसार कार्य स्वीकृत करवाया जाकर कार्य शुरू कराए जाने सुनिश्चित करें। श्रमिकों का भुगतान समय पर करें। नियमानुसार कार्यों का निरीक्षण करें और कार्यों में पारदर्शिता सुनिश्चित करें, किसी प्रकार का फर्जीवाड़ा नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि महानरेगा में महिला मेटों की संख्या बढाएं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना में अपूर्ण आवासों को पूर्ण करवाएं और लाभान्वित को समय पर किश्त जारी करें। जिला कलक्टर ने पंचायतों में लगाए गए ई मित्र प्लस को फंक्शनल किया जाना सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए।
इस दौरान एसएफसी और एफएफसी कार्य, नवसृजित ग्राम पंचायतों के लिए भूमि आवंटन एवं निर्माण कार्य, पंचायत भवन मरम्मत कार्य, जनता जल योजना, इओएल सर्वे, ब्लॉक पंचायत विकास योजना, ठोस एवं तरल कचरा प्रबंधन, सामुदायिक स्वच्छता शौचालय, व्यक्तिगत शौचालय निर्माण, जन सूचना पोर्टल सहित विभिन्न बिंदुओं पर व्यापक समीक्षा कर निर्देश दिए गए।
सीईओ सत्तार खान ने विभिन्न कार्यों की प्रगति से अवगत कराया और विकास कार्यों को लेकर आवश्यक निर्देश दिये। एसीईओ डॉ नरेंद्र चौधरी ने कहा कि पूर्ण हुए कायोर्ं की तत्काल यूसी-सीसी उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।
इस दौरान वाटरशेड एसई, महानरेगा एक्सईएन रमजान अली, एसबीएम प्रभारी श्याम लाल शर्मा, सहायक निदेशक (जनसंपर्क) कुमार अजय, विकास अधिकारी संत कुमार मीणा, सानिवि एसई सुनील कालानी, सीपीओ जगदीश जांगिड़, जोधपुर डिस्कॉम के अनिल पूनिया सहित अधिकारीगण मौजूद थे।
  • Powered by / Sponsored by :