वन्य जीवों की गणना 18 मई को

वन्य जीवों की गणना 18 मई को

बीकानेर, 14 मई। पूर्णिमा पर 18 मई सुबह से 19 मई को होने वाली वन्य जीवों की गणना के संबंध में पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्व विद्यालय के प्रेक्षागृह में बुधवार को सुबह दस बजे से दोपहर दो बजे तक प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित की जाएगी । कार्यशाला में वन विभाग के संभाग स्तरीय अधिकारियों, कर्मचारियों, स्वयं सेवकों, वन्य जीव प्रेमियों एवं स्वयं सेवी संस्थाओं के सदस्य शामिल होंगे।
उप वन संरक्षक जयदीप सिंह राठौड़ ने बताया कि कार्यशाला में सभी वन्यजीव प्रेमी, स्वयं सेवक, स्वयं सेवी संस्थाओं के इच्छुक सदस्य, जिन्हें वन्य जीव पहचान संबंधित अनुभव हो या जो पूर्व में वन्य जीव गणना कार्य में शामिल हो चुके है, वे वाटर हॉल पद्धति सम्पादित किए जाने वाले वन्य जीव संख्या आंकलन कार्य में सहयोग करने वाले प्रशिक्षण में शामिल हो सकेंगे ।
उन्होंने बताया कि राज्य में वन्य जीवों का वाटरहॉल पद्धति से वन्य जीव संख्या आंकलन प्रतिवर्ष ज्येष्ठ (मई) माह की पूर्णिमा को करवाया जाता है। इस वर्ष वन्य जीव संख्या आंकलन का कार्य मई माह की पूर्णिमा 18 मई को सुबह आठ बजे से 19 मई सुबह आठ बजे तक 24 घंटें के लिए वाटर हॉल गणना विधि में बीकानेर संभाग में समस्त संरक्षित क्षेत्र, प्रादेशिक वन मंडलों एवं अन्य महत्वपूर्ण वन्यजीव बाहुल्य क्षेत्रों में गणना की जाएगी । इस वर्ष वन्य जीव संख्या आंकलन वर्ष 2019 कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए प्राणी पहचान एवं अन्य संबंधित पहलुओं की जानकारी देने के लिए यह कार्यशाला आयोजित की जा रही है । इस वर्ष बीकानेर संभाग के अधीन समस्त वन मंडलों के करीब 260 वाटर हॉल पर वन्य जीव संख्या का आंकलन किया जाना प्रस्तावित है ।
  • Powered by / Sponsored by :